Weather Alert: मप्र के नर्मदापुरम संभाग में भारी से भारी बारिश का अलर्ट, पटरियां डूबीं, रेल यातायात प्रभावित

पुनः संशोधित शुक्रवार, 15 जुलाई 2022 (22:36 IST)
हमें फॉलो करें
भोपाल। मौसम विभाग (IMD) ने शुक्रवार को मध्यप्रदेश के में भारी से बहुत भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इस इलाके में बारिश से रेल की पटरियां जलमग्न हो गई हैं और ट्रेनों की आवाजाही प्रभावित हुई है। आईएमडी ने संभाग के नर्मदापुरम, हरदा और बैतूल जिलों के अलग-अलग स्थानों पर 64.5 से 204 मिलीमीटर के बीच भारी वर्षा होने का ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है।

8 संभागों में यलो अलर्ट :
विभाग ने भोपाल और जबलपुर सहित 21 जिलों में अलग अलग स्थानों पर भारी बारिश तथा भोपाल एवं इंदौर सहित 8 संभागों में गरज के साथ बारिश होने के दो ‘यलो अलर्ट’ जारी किया हैं। यह अलर्ट शनिवार सुबह तक वैध हैं। अधिकारियों के अनुसार मध्य रेलवे के नागपुर मंडल के किरतगढ़-बैतूल खंड में पटरियों के पानी में डूब जाने से पड़ोसी महाराष्ट्र में नागपुर जाने वाला रेल यातायात प्रभावित हुआ है।
रेल यातायात प्रभावित : उन्होंने बताया कि नागपुर की ओर जाने वाली कुछ ट्रेनों को या तो नर्मदापुरम जिले के इटारसी और होशंगाबाद स्टेशनों पर रोक दिया गया है या उनका मार्ग बदल दिया गया है। उन्होंने बताया कि बैतूल जिले के आमला से नर्मदापुरम के इटारसी जाने वाली मेमू ट्रेन शुक्रवार को रद्द कर दी गई।

आईएमडी के आंकड़ों के अनुसार मध्य प्रदेश के एकमात्र हिल स्टेशन पचमढ़ी, उज्जैन, इंदौर, भोपाल और जबलपुर में शुक्रवार सुबह साढे 8 बजे समाप्त हुए 24 घंटों में क्रमश: 68.2 मिमी, 48.0 मिमी, 30.4 मिमी, 10.4 मिमी और 3.5 मिमी बारिश हुई है। राज्य के कई अन्य जिलों में भी बारिश हुई है।
आईएमडी के भोपाल कार्यालय के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी वेदप्रकाश सिंह ने कहा कि पश्चिम मध्य प्रदेश में बारिश की गतिविधियां कम होने की संभावना है क्योंकि तटीय ओडिशा पर कम दबाव का क्षेत्र कुछ कमजोर हो गया है। उन्होंने कहा हालांकि पूर्वोत्तर अरब सागर के ऊपर एक अच्छी तरह से चिन्हित कम क्षेत्र के कारण राज्य के पूर्वी हिस्से में बारिश बढ़ने की उम्मीद है।

सिंह ने कहा कि इन कारकों के परिणामस्वरूप प्रदेश में अगले पांच दिनों तक बारिश जारी रहेगी। बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र में 19 जुलाई के बाद अच्छी बारिश होने की संभावना है।



और भी पढ़ें :