शिवपुरी : मजदूरी मांगी तो दबंगों ने प्रायवेट पार्ट में कम्‍प्रेशर से भर दी हवा, मौत, 2 पुलिस अधिकारी निलंबित

Last Updated: सोमवार, 28 दिसंबर 2020 (19:24 IST)
शिवपुरी (मध्यप्रदेश)। के शिवपुरी जिले में मजदूरी मांगने को लेकर हुए मामूली विवाद पर सहित 6 लोगों ने 50 वर्षीय एक के में कम्प्रेशर मशीन के पाइप से हवा भर दी, जिससे उसके अंदरुनी अंग फट गए और हो गई।
यह घटना आठ नवम्बर को हुई थी और उसके बाद इस व्यक्ति का इलाज चल रहा था, लेकिन 25 दिसम्बर को उसकी मौत हो गई। इस मामले में शिवपुरी जिले के पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने आरोपियों के खिलाफ समय पर कोई कार्रवाई न किए जाने पर दो पुलिस अधिकारियों को रविवार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

पोहरी के अनुविभागीय अधिकारी पुलिस निरंजन राजपूत ने रविवार को बताया कि मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया है कि ग्राम गाजीगढ़ में संचालित मेसर्स तोमर बिल्डर्स के क्रशर पर गत आठ नवम्बर को गांव के ही मजदूर परमानंद धाकड़ और क्रशर संचालक के बीच मजदूरी के पैसे मांगने को लेकर विवाद हो गया था।

उन्होंने कहा कि विवाद इतना बढ़ गया कि क्रशर संचालक राजेश राय ने वहां कार्यरत देवेंद्र, रवि, पिंटू और पप्पू खान से मजदूर परमानंद को पकड़वाया और फिर कम्प्रेशर मशीन का पाइप उसके प्रायवेट पार्ट में लगाकर हवा भर दी, जिससे उसके अंदरुनी अंग फट गए।

राजपूत ने बताया कि परमानंद का ग्वालियर और जयपुर में भी इलाज कराया गया, इसके बाद उसे शिवपुरी जिला अस्पताल में लाया गया, जहां पर 25 दिसम्बर को उसकी मौत हो गई। उन्होंने कहा कि इस मजदूर के परिजनों ने आठ नवंबर की हुई घटना के तुरंत बाद ही गोर्वधन पुलिस को शिकायत की थी, मगर दोनों पक्षों में राजीनामा होने की चर्चा चलने के कारण पुलिस ने कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की, इस बीच 25 दिसम्बर को परमानंद की मौत हो गई।

परमानंद का इलाज करने वाले चिकित्सकों ने बताया कि उसकी मौत उसके अंदरुनी अंगों में हवा भरने और संक्रमण के कारण हुई है। मौत के मामले में परिजनों के बयानों के आधार पर पुलिस ने छह लोगों के खिलाफ मौत के दो दिन बाद रविवार को भादंवि की धारा 302 एवं 201 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

इसी बीच, श्रमिक के परिजनों की शिकायत पर आरोपियों के विरुद्ध तत्समय कोई कार्रवाई न किए जाने पर पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने गोवर्धन थाना प्रभारी राघवेन्द्र यादव एवं उप निरीक्षक प्रमोद तिवारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।(वार्ता)



और भी पढ़ें :