मंगलवार, 31 जनवरी 2023
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. मध्यप्रदेश
  4. 95 people arrested in Khargone roits
Written By विकास सिंह
पुनः संशोधित मंगलवार, 12 अप्रैल 2022 (12:05 IST)

खरगोन में आज भी कर्फ्यू जारी, 95 दंगाई गिरफ्तार, 50 से अधिक घर-दुकान पत्थर के ढेर में तब्दील, शिवराज ने स्थिति की समीक्षा

भोपाल। खरगोन में रामनवमी पर हुई हिंसा के घटना के बाद स्थिति लगातार ‌तनाव पूर्ण बनी हुई है। देर रात कुछ इलाकों में आगजनी की घटनाओं के बाद प्रशासन ने सख्ती बढ़ा दी है। खरगोन शहर के बाद आसपास के इलाकों में छिटपुट हिंसा के बाद बड़े पैमाने पर पुलिस फोर्स को तैनात किया गया है।
 
स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए खरगोन में 4 आईपीएस ,15 डीएसपी सहित आरएएफ की कंपनी और बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।
 
वहीं खरगोन में दंगे के बाद के हालात की समीक्षा के लिए आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अधिकारियों के साथ बड़ी बैठक की।
 
बैठक में डीजीपी ने मुख्यमंत्री को प्रदेश की कानून व्यवस्था से अवगत कराया बैठक में बताया गया कि खरगोन हिंसा के मामले में अब तक 95 दंगाई गिरफ्तार किए जा चुके है और गिरफ्तारी की कार्रवाई अब भी जारी है।

पुलिस प्रशासन घटना से जुड़े वीडियो के जरिए दंगाईयों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई कर रहा है। बैठक में बताया गया कि आज भी खरगोन में दंगाइयों की संपत्ति को जमीदोंज करने की कार्रवाई की जाएगी।
 
वहीं खरगोन में दंगाईयों के खिलाफ प्रशासन का बुलडोजर पूरी ताकत के साथ चल रहा है। अब तक दंगाईयों के 50 से अधिक मकान-दुकान पर बुलडोजर चलाया जा चुका है। सोमवार को दंगाईयों की 16 मकान व 29 दुकानें तोड़ी गई है।

हिंसा वाले इलाके मोहन टॉकीज इलाके में खरगोन में चार मकान व तीन दुकान, खसखस बाड़ी क्षेत्र में 12 मकान व 10 दुकान, औरंगपुरा में तीन दुकानें, तालाब चौक में 12 दुकानें, गणेश मंदिर के पास एक दुकान सहित कुल 16 स्थानों पर प्रशासन का बुलडोजर चला है।
 
ये भी पढ़ें
JNU: आजादी की अभिव्‍यक्‍ति से लेकर रामनवमी और मेस में नॉनवेज तक, विवादों का विश्‍वविद्यालय जेएनयू, फिर भी देश को दिए टॉप लीडर्स