लोकसभा चुनाव 2019 : कानपुर में प्रियंका गांधी का रोड शो, केंद्र सरकार पर लगाया धोखा देने का आरोप

Author अवनीश कुमार|
कानपुर। उत्तरप्रदेश के पहुंचीं प्रियंका गांधी ने कानपुर से प्रत्याशी पूर्व मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के पक्ष में जनता से के लिए करने के लिए रोड शो किया। प्रियंका का रोड शो कांग्रेसियों के लिए एक नई ऊर्जा लेकर आया, जो कांग्रेसियों में साफतौर पर देखने को मिल रही थी। उन्होंने केंद्र सरकार पर सबको धोखा देने का आरोप लगाया।
कार्यकर्ताओं से मुलाकात करने के दौरान प्रियंका गांधी ने 'वेबदुनिया' से बातचीत करते हुए कहा कि कानपुर की जनता का इतना प्रेम देखकर मैं इसको दिल से धन्यवाद करती हूं और वादा करती हूं कि कांग्रेस सरकार जनता का काम करने के लिए प्रतिबद्ध है।

उन्होंने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि एक ओर पूंजीपतियों को बढ़ाने वाली तत्कालीन मोदी सरकार है तो दूसरी ओर कांग्रेस जनता के लिए काम करने को प्रतिबद्ध है। मोदी सरकार के 5 सालों में किसान कर्ज में डूबते रहे और सरकार उद्योगपतियों का कर्ज माफ करती रही। 'वेबदुनिया' के माध्यम से कानपुरवासियों से मेरी अपील है कि वे अबकी बार मतदान देश की सुरक्षा और संविधान बचाने के लिए करें।
प्रियंका ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चीन, अमेरिका और दुनियाभर में गए, लेकिन अपने लोगों के लिए कुछ नहीं किया। इस सरकार की हिम्मत नहीं है कि वह आपकी आवाज सुने। इस देश में कोई सत्य को छुपा नहीं सकता, दबा नहीं सकता और खत्म नहीं कर सकता है। मैंने सत्य किसानों की आंखों में देखा है।
ये राजनीति जो आपको दुर्बल बनाती है, जो अपने हाथ में सत्ता रखती है और आपको सत्ता में नहीं रख सकती। लोकतंत्र व संविधान किसके लिए बनाए गए हैं? आपको मजबूत करने के लिए। जब आप वोट करने जाएं तो इन चीजों को ध्यान रखिएगा। आप मन बनाइए कि आप उसको वोट देंगे, जो एक ऐसी सरकार हो, जहां पर विकास हो, आपकी सुनवाई हो और आपकी आवाज न दबाई जाए। वह सरकार, जो आपको समझे, आपकी समस्या को समझे, आपके लिए खड़ी हो सके।
पिछले 5 सालों ने केंद्र सरकार ने सबको धोखा दिया है। इनके लफ्ज पर भरोसा नहीं है और इनके प्रचार पर विश्वास नहीं है। आपको बताया गया था कि 2 करोड़ रोजगार देंगे हर साल। नोटबंदी को लेकर कहा गया था कि देशभक्ति के लिए ऐसा किया गया है और कालाधन वापस आ जाएगा, लेकिन हुआ कुछ नहीं और आप लोगों को सिर्फ परेशानी ही मिली। इस सरकार से आपका कुछ फायदा नहीं हुआ और सिर्फ सरकार और कुछ उद्योगपतियों को फायदा हुआ।
प्रियंका ने कहा कि इस देश में दो तरह की राजनीति चल रही है। एक, जनता के क्या अधिकार हैं और जनता का क्या हक है वह देने के लिए और दूसरी, इन सबको छीनने के लिए। आपको रोजगार और अधिकार नहीं मिल रहा है। मैं उत्तरप्रदेश पूरा घूम रही हूं। देखा है शिक्षामित्रों और कइयों को उनका अधिकार नहीं मिल रहा है। यह सब मौजूदा सरकार समझती है। इसके बाद भी आपको देशभक्ति में उलझाए हुए हैं।

जनता की जागरूकता सबसे बड़ी देशभक्ति है। बहुत हो गया झूठा प्रचार और बहुत हो चुका है आपका एहसान। जो इनकी निंदा और आलोचना करता है, उनको देशद्रोही ये कहते हैं। यह राष्ट्रवादी है, पर ऐसा नहीं है। जो राजनेता सबल होता है, वह जनता से नहीं घबराता। यह सरकार दुर्बल है। यह प्रधानमंत्री एक दुर्बल प्रधानमंत्री है। इनमें कोई आत्मशक्ति नहीं है। इनकी दुर्बलता को आप पहचानिए। विपक्षी दल सवाल न उठाए, ये लोग यही चाहते हैं।
उन्होंने कहा कि मेरे भाई राहुल को ये लोग रोज गाली देते हैं और वे मुस्कुराकर सहते हैं। गलती को सुधारना ही राजनीतिक शक्ति है। यह दुर्बलता नहीं पहचानोगे तो देश दुर्बल बनेगा। देश की सबसे बड़ी शक्ति यह जनता है, कोई एक इंसान नहीं है। कोई इतना बड़ा राष्ट्रवादी नहीं है, जो जनता से बड़ा हो। मैं कांग्रेस पार्टी के लिए नहीं, देश की सुरक्षा और संविधान के लिए वोट मांगने आई हूं। भाजपा को जीतने न दें। इंदिराजी ने आप लोगों के लिए जान दी। इंदिराजी से तुलना मेरी नहीं हो सकती, क्योंकि वे महान थीं। वोट देते वक्त मेरी बातों पर जरूर ध्यान दें।

 

और भी पढ़ें :