ज्योतिरादित्य सिंधिया के इंदौर से लड़ने की अटकलों पर कमलनाथ ने लगाया विराम

विशेष प्रतिनिधि| पुनः संशोधित शनिवार, 30 मार्च 2019 (17:39 IST)
भोपाल। के दिग्गज नेता और पार्टी महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया को से लोकसभा चुनाव लड़ने की अटकलों के बीच मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बड़ा बयान दिया है।
प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे मुख्यमंत्री कमलनाथ से जब सिंधिया के इंदौर से चुनाव लड़ाने की पार्टी नेताओं की मांग पर सवाल किया गया तो कमलनाथ ने साफ कहा कि 'सिंधियाजी का अपना क्षेत्र है और वे वहां से सीटिंग एमपी हैं। उनका केस दूसरा है और उनके साथ परिस्थितियां भी अलग हैं, इसलिए सिंधिया खुद अपने आप निर्णय लेंगे ये उन पर हैं।

मुख्यमंत्री का यह बयान ऐसे समय सामने आया है जब पिछले कई दिनों से सूबे की सियासत में इस बात की चर्चा गर्म है कि कांग्रेस इंदौर से ज्योतिरादित्य सिंधिया को चुनाव लड़ा सकती है।
इन चर्चाओं को उस वक्त और बल मिल गया था जब मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने भी सिंधिया को इंदौर से चुनाव लड़ने की मांग कर दी थी। मुख्यमंत्री कमलनाथ के इस बयान के सिंधिया की इंदौर से चुनाव लड़ने की अटकलों पर लगभग विराम लगता हुए दिख रहा है।
विज्ञापन निकालकर बीजेपी खोजे उम्मीदवार : मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भोपाल से बीजेपी की तरफ से अब तक उम्मीदवार के नाम का ऐलान नहीं होने पर तंज कसा है। कमलनाथ ने कहा कि बीजेपी को कांग्रेस उम्मीदवारों के खिलाफ प्रत्याशी नहीं मिल रहे हैं इसलिए अब बीजेपी को विज्ञापन निकालकर प्रत्याशी खोजने चाहिए।
इसके साथ ही कमलनाथ ने दावा किया मध्यप्रदेश में कांग्रेस 29 में 22 लोकसभा सीटें जीतेगी, वहीं अगले दो-तीन दिन में बची हुई अधिकांश सीटों पर उम्मीदवारों के नाम का ऐलान भी कर देगी।

पूर्व मंत्री राजेंद्र शुक्ल के भाई कांग्रेस में शामिल : लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं में पार्टियां बदलने का सिलसिला जारी है। बीजेपी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहें राजेंद्र शुक्ल के भाई विनोद शुक्ल आज कांग्रेस में शामिल हो गए। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में विनोद शुक्ल के साथ विंध्य के कई बीजेपी नेताओं को कांग्रेस की सदस्यता ली।



और भी पढ़ें :