कोलकाता में अमित शाह के रोड शो के दौरान हिंसा, आगजनी और पथराव

Last Updated: मंगलवार, 14 मई 2019 (23:04 IST)
कोलकाता। भाजपा अध्यक्ष के शहर में मंगलवार को हुए रोड शो के दौरान भाजपा समर्थकों एवं वाम तथा तृणमूल कांग्रेस छात्र परिषद (टीएमसीपी) के छात्र कार्यकर्ताओं के बीच झड़पें हुईं। इस दौरान पथराव और वाहनों को आग के हवाले भी कर दिया गया।

अधिकारियों ने बताया कि यह तनाव तब बढ़ गया जब अमित शाह के काफिले के कॉलेज स्ट्रीट और स्वामी विवेकानंद के निवास के लिए उत्तरी कोलकाता में बिधान सारणी से गुजरते वक्त पथराव किया गया।

अधिकारियों ने बताया कि कॉलेज स्ट्रीट पर कलकत्ता विश्वविद्यालय परिसर के बाहर झड़प शुरू हो गई जब वाम एवं टीएमसीपी के छात्र कार्यकर्ताओं ने शाह के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी।
उन्होंने काले झंडे दिखाए और 'अमित शाह वापस जाओ' लिखे हुए पोस्टर हवा में लहराए। पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित किया।

अधिकारियों ने बताया कि विद्यासागर महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय छात्रावास के बाहर उस वक्त झड़प हुई जब टीएमसीपी कार्यकर्ताओं ने शाह के काफिले पर पथराव किया।

गुस्साए भाजपा समर्थकों ने छात्रावास के दरवाजों को बंद कर दिया और साइकलों एवं मोटरसाइकलों को आग के हवाले कर दिया। उन्होंने इमारत पर पथराव भी किया।

अधिकारियों ने बताया कि भाजपा समर्थकों ने छात्रावास इमारत के बाहर लगी ईश्वरचंद्र विद्यासागर की आवक्ष प्रतिमा भी झड़प के दौरान तोड़ दी। उन्होंने बताया कि पुलिस का एक बड़ा दस्ता मौके पर पहुंचा और स्थिति को नियंत्रित किया।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आरोप लगाया कि यह हमारे कार्यकर्ताओं पर हमला था। पुलिस हिंसा के समय मूकदर्शक बनी खड़ी रही।
(Photo courtesy: ANI)

 

और भी पढ़ें :