अंतिम गेंद पर छक्का नहीं मार पाए डिविलियर्स, ट्रोलर्स ने कहा रॉयल 'चोकर्स' बैंगलोर

Last Updated: गुरुवार, 7 अक्टूबर 2021 (14:16 IST)
हैदराबाद से हुए मैच में ऐसा लग रहा था कि बैंगलोर जीत जाएगा लेकिन उनके फैंस को निराशा हाथ लगी।
डिविलियर्स और शाहबाद अहमद ने संघर्ष किया और मैच को अंतिम ओवर तक पहुंचाया। बेंगलुरु को जीत के लिए आखिरी ओवर में 13 रन की जरूरत थी, लेकिन इस ओवर में आठ ही रन आ पाए।

142 रनों का पीछा कर रही के लिए मैच जितानी की जिम्मेदारी एबी डिविलियर्स पर थी । उन्होंने अंतिम ओवर की चौथी गेंद पर तो छक्का मारा लेकिन अंतिम गेंद पर ऐसा ना कर पाने के कारण बैंगलोर 4 रनों से मै हार गई।

इस हार के साथ बैंगलोर का टॉप 2 में जाने की मुहिम समाप्त हो गई। बैंगलोर हालांकि प्लेऑफ में क्वालिफाय कर चुकी है फिर भी इस हार पर उन्हें फैंस द्वारा ट्रोलिंग का सामना करना पड़ा।
मैक्सवेल का आउट होना टर्निंग प्वाइंट रहा : कोहली

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली ने इंडियन प्रीमियर लीग में यहां करीबी मुकाबले में के खिलाफ चार रन की हार के बाद कहा कि अहम मौके पर ग्लेन मैक्सवेल का रन आउट होना टर्निंग प्वाइंट रहा।

लगातार तीन अर्धशतक जड़ने वाले मैक्सवेल 25 गेंद में 40 रन बनाने के बाद रन आउट हुए। उन्होंने सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल (41) के साथ चौथे विकेट के लिए 54 रन की साझेदारी भी की।

प्ले आफ के लिए पहले ही क्वालीफाई कर चुकी आरसीबी की टीम बुधवार को 142 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए उमरान (21 रन पर एक विकेट), सिद्धार्थ कौल (24 रन पर एक विकेट), भुवनेश्वर कुमार (25 रन पर एक विकेट) और जेसन होल्डर (27 रन पर एक विकेट) की किफायती गेंदबाजी के सामने छह विकेट पर 137 रन ही बना सकी।

सनराइजर्स ने हर्षल पटेल (33 रन पर तीन विकेट), डैन क्रिस्टियन (14 रन पर दो विकेट) और युजवेंद्र चहल (27 रन पर एक विकेट) की प्रभावी गेंदबाजी के सामने सात विकेट पर 141 रन बनाए थे।

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘‘देव (पडिक्कल) और मैक्सी (मैक्सवेल) ने अच्छा मंच तैयार किया था लेकिन मैक्सवेल का रन आउट होना हमारे लिए महत्वपूर्ण लम्हा रहा। डिविलियर्स की मौजूदगी में आप हमेशा मैच में बने रहते हो लेकिन यह तभी संभव हो पाता है जब आप लय में हों।’’

उन्होंने कहा, ‘‘शाहबाज ने उस समय अहम पारी खेलकर हमें वापसी दिलाई। यह काफी करीबी मुकाबला रहा। कोई भी इसे जीत सकता था। सनराइजर्स ने धैर्य बनाए रखा और हमें जीत दर्ज करने से रोका।’’कोहली ने शानदार गेंदबाजी कर रहे युजवेंद्र चहल की तारीफ करने के अलावा सनराइजर्स के युवा गेंदबाज उमरान मलिक की भी सराहना की।

उन्होंने कहा, ‘‘चहल अब काफी अच्छी गेंदबाजी कर रहा है। ऐसा लगता है कि उसने अपनी गेंदबाजी पर काफी काम किया है। युवा खिलाड़ी (उमरान मलिक) को 150 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से गेंदबाजी करते हुए देखना अच्छा लगा। यहां से व्यक्तिगत खिलाड़ियों की प्रगति पर नजर रखना अहम है।’’



और भी पढ़ें :