मैच प्रिव्यू- हैदराबाद से होने वाले मुकाबले में बैंगलोर की नजर टॉप 2 में जगह बनाने पर

Last Updated: बुधवार, 6 अक्टूबर 2021 (10:30 IST)
नई दिल्ली: प्लेऑफ में अपनी जगह सुरक्षित करने के बाद टॉप 2 में पहुंचने की उम्मीदों को बरकरार रखने के लिये बुधवार को यहां इंडियन प्रीमियर लीग में लगातार हार से पस्त के खिलाफ बड़ी जीत दर्ज करने की कोशिश करेगा।

अपने पहले आईपीएल खिताब की कवायद में लगा आरसीबी अभी 12 मैचों में 16 अंक लेकर तीसरे स्थान पर है। दिल्ली कैपिटल्स 20 अंक के साथ शीर्ष पर है जबकि उसके बाद चेन्नई सुपर किंग्स (18) का नंबर आता है। सनराइजर्स पर जीत से आरसीबी का शुक्रवार को दिल्ली के खिलाफ होने वाले लीग चरण के अपने अंतिम मैच से पहले मनोबल बढ़ेगा। अगर आरसीबी अपने दोनों मैच जीत लेता है तो उसके 20 अंक हो जाएंगे और उसके पास शीर्ष दो में पहुंचने का मौका होगा।

दूसरे चरण के शुरू में कोलकाता नाइट राइडर्स और चेन्नई से हारने के बाद आरसीबी ने अच्छी वापसी की और लगातार तीन मैच जीतकर प्लेऑफ में जगह बनायी। विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम जीत का अपना यह अभियान जारी रखने की कोशिश करेगी। कोहली अभी तक बड़ा स्कोर नहीं बना पाये हैं लेकिन वे अच्छी लय में दिख रहे हैं। उनके साथ युवा सलामी बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल ने भी अच्छी भूमिका निभायी है। लेकिन आलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल का प्रदर्शन शानदार रहा है। उन्होंने पिछले मैच में लगातार तीसरा अर्धशतक जमाया था। मैक्सवेल ने 33 गेंदों पर 57 रन बनाये जिससे आरसीबी ने सात विकेट पर 164 रन का स्कोर खड़ा किया जिसका उसके गेंदबाजों ने आसानी से बचाव किया।
एबी डिविलियर्स को इस सीजन में अधिक मौके नहीं मिले हैं जिससे पता चलता है कि उसका टॉप ऑर्डर कितना अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। आरसीबी के गेंदबाजों ने भी अच्छा प्रदर्शन किया है। मोहम्मद सिराज, जॉर्ज गार्टन और हर्षल पटेल तेज गेंदबाजी विभाग जबकि युजवेंद्र चहल स्पिन विभाग में अच्छी जिम्मेदारी निभा रहे हैं।

हैदराबाद का निराशाजनक प्रदर्शन

दूसरी तरफ सनराइजर्स इस सत्र को याद भी नहीं करना चाहेगा। लगातार हार से उसकी टीम प्लेऑफ की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुकी है। उसने 12 मैचों में से केवल दो में जीत दर्ज की है और वह तालिका में अंतिम स्थान पर है। दूसरे चरण में वह पांच मैचों में केवल एक जीत राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ दर्ज कर पाया है। ऐसे में सनराइजर्स बाकी बचे दोनों मैच जीतकर सत्र का सकारात्मक अंत करने की कोशिश करेगा।

बल्लेबाजी सनराइजर्स का कमजोर पक्ष बनकर उभरा है। जॉनी बेयरस्टो की अनुपस्थिति से उसकी बल्लेबाजी अधिक कमजोर हुई है। गेंदबाजी में जेसन होल्डर ने अपनी भूमिका अच्छी तरह से निभायी है लेकिन भुवनेश्वर कुमार और सिद्धार्थ कौल ने निराश किया है।
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर: विराट कोहली (कप्तान), नवदीप सैनी, ग्लेन मैक्सवेल, डैन क्रिस्टियन, रजत पाटीदार, दुष्मंथा चमीरा, पवन देशपांडे, मोहम्मद सिराज, हर्षल पटेल, मोहम्मद अजहरुद्दीन, सचिन बेबी, वनिन्दु हसरंगा, जॉर्ज गार्टन, युजवेंद्र चहल, शाहबाज अहमद, देवदत्त पडिक्कल, काइल जैमीसन, सुयश प्रभुदेसाई, केएस भरत, टिम डेविड, आकाश दीप, एबी डिविलियर्स.

सनराइजर्स हैदराबाद: केन विलियमसन (कप्तान), डेविड वार्नर, मनीष पांडे, शेरफेन रदरफोर्ड, रिद्धिमान साहा, श्रीवत्स गोस्वामी, राशिद खान, विजय शंकर, मोहम्मद नबी, अभिषेक शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, सिद्धार्थ कौल, खलील अहमद, उरमान मलिक, बासिल थम्पी , संदीप शर्मा, शाहबाज नदीम, अब्दुल समद, जे सुचित, जैसन होल्डर, विराट सिंह, प्रियम गर्ग, केदार जाधव, मुजीब-उर-रहमान, जैसन रॉय



और भी पढ़ें :