बुधवार, 24 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. समाचार
  4. Felt my time in this world is up, Rishabh Pant opens up on horrific car accident
Written By WD Sports Desk
Last Updated : गुरुवार, 1 फ़रवरी 2024 (17:39 IST)

लगा कि इस दुनिया में मेरा समय खत्म हो गया है.. कार दुर्घटना पर ऋषभ पंत ने बयां किया अपना दर्द

पंत दिसंबर 2022 में दिल्ली से अपने परिवार के पास अपने शहर रूड़की जा रहे थे जब उनकी कार सड़क के बीच डिवाइडर से टकरा गई

लगा कि इस दुनिया में मेरा समय खत्म हो गया है.. कार दुर्घटना पर ऋषभ पंत ने बयां किया अपना दर्द - Felt my time in this world is up, Rishabh Pant opens up on horrific car accident
Rishabh Pant on his horrific Car Accident : भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने कहा है कि 13 महीने पहले हुए भयावह कार हादसे के बाद उन्हें अपना दाहिना पैर गंवाने का डर था।
 
पंत दिसंबर 2022 में दिल्ली से अपने परिवार के पास अपने शहर रूड़की जा रहे थे जब उनकी कार सड़क के बीच डिवाइडर से टकरा गई।
 
वह उस समय मीरपुर टेस्ट में भारत की जीत में अहम भूमिका निभाकर बांग्लादेश से लौटे ही थे ।
 
उन्होंने Star Sports की सीरिज 'Believe - To death & back' में कहा ,‘‘ अगर कोई नस क्षतिग्रस्त होती तो पैर गंवाने का डर था । मैं उस समय डर गया था ।’’
 
पंत ने कहा ,‘‘ मैंने SUV ली थी लेकिन वह बाद में Sedan लग रही थी ।’’
 
हादसे को याद करते हुए उन्होंने कहा कि उनके दाहिने घुटने की हड्डी खिसक गई थी और उन्हें काफी दर्द हो रहा था । उन्होंने कहा ,‘‘ वहां आसपास कोई था तो मैने पूछा कि पैर को वापिस जगह पर लाने में मदद कर सकता है । उसने मेरे घुटने को सही जगह पर पहुंचाने में मदद की ।’’
 
दो व्यक्तियों रजत कुमार और निशु कुमार ने पंत को उनकी एसयूवी से निकाला जो बाद में आग की लपटों में थी।
पंत ने कहा ,‘‘ जीवन में पहली बार ऐसा महसूस हुआ। हादसे के समय चोट के बारे में तो पता था लेकिन मैं खुशकिस्मत था क्योंकि यह और गंभीर हो सकती थी।’’
 
पंत का शुरूआती इलाज देहरादून में हुआ जिसके बाद उन्हें हवाई जहाज से मुंबई ले जाया गया जहां BCCI ने विशेषज्ञ से उनका इलाज कराया।
 
दाहिने घुटने के सभी तीनों लिगामेंट के आपरेशन के बाद पंत ने बेंगलुरू में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (NCA) में रिहैबिलिटेशन शुरू किया । पंत मार्च में IPL के जरिए वापसी कर सकते हैं। (भाषा)


ये भी पढ़ें
WTC और वनडे विश्वकप फाइनल जिताने वाले शतकवीर को ऑस्ट्रेलिया ने नहीं दिया राष्ट्रीय पुरुस्कार