रणजी के दूसरे मैच में भी फ्लॉप हुए पुराने, कुल खेल पाए सिर्फ 9 गेंद

पुनः संशोधित गुरुवार, 24 फ़रवरी 2022 (19:35 IST)
हमें फॉलो करें
अहमदाबाद:भारतीय टीम से बाहर चल रहे सौराष्ट्र के अनुभवी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा गुरूवार को रणजी ट्राफी एलीट ग्रुप डी मैच में केवल छह गेंद का सामना करने के बाद आउट हो गये लेकिन चिराग जानी के नाबाद शतक और दो बल्लेबाजों के अर्धशतकों से ओडिशा के खिलाफ टीम पहले दिन स्टंप तक चार विकेट पर 325 रन बनाने में सफल रही।

टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला करने वाली सौराष्ट्र के लिये सलामी बल्लेबाज हार्विक देसाई (38) और स्नेल पटेल (24) ने अच्छी शुरूआत करायी लेकिन बड़ी पारी नहीं खेल सके। पर चिराग एक छोर पर डटे रहे, उन्होंने अभी तक नाबाद 125 रन की पारी में 16 चौके और चार छक्के जड़ दिये हैं।

पुजारा की खराब फॉर्म जारी रही, वह केवल छह गेंद ही खेल सके जिसमें उन्होंने दो बार गेंद सीमारेखा के पार कराकर आठ रन जोड़े। लेकिन वह देबब्रत प्रधान की गेंद पर आउट हो गये।

शेल्डन जैक्सन ने फिर चिराग का अच्छा साथ निभाया। उन्होंने 112 गेंद में 12 चौके और तीन छक्के की मदद से 75 रन की पारी खेली।उनके आउट होने के बाद अर्पित वसावडा ने इसी जिम्मेदारी से खेलते हुए स्टंप तक नाबाद 51 रन बना लिये थे जिसमें छह चौके और दो छक्के शामिल थे।
Cheteshwar Pujara

ग्रुप के एक अन्य मैच में कई बार की चैम्पियन मुंबई की टीम गोवा के लक्ष्य गर्ग और अमित यादव की गेंदबाजी के आगे पहली पारी में 163 रन पर सिमट गयी। लक्ष्य गर्ग ने 46 रन देकर छह और अमित ने 47 रन देकर चार विकेट झटके।

मुंबई के लिये केवल पांच बल्लेबाज ही दोहरे अंक तक पहुंच सके जिसमें सरफराज खान ने 63 रन की अर्धशतकीय पारी खेली। तनुष कोटियान ने 30 रन का योगदान दिया।

वहीं भारतीय टीम से बाहर चल रहे एक अन्य अनुभवी खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे खाता भी नहीं खोल सके और तीन गेंद खेलने के बाद आउट हो गये।

गोवा ने दिन का खेल खत्म होने तक सलामी बल्लेबाज अमोघ सुनील देसाई के नाबाद 51 और सुयश प्रभुदेसाई के 40 रन की मदद से दो विकेट पर 114 रन बना लिये थे। इससे टीम पहली पारी में मुंबई से केवल 49 रन से पिछड़ रही है।सुनील देसाई के साथ कप्तान स्नेहल कौथांकर 16 रन बनाकर खेल रहे हैं।



मनदीप और मल्होत्रा के शतक से पंजाब का मजबूत स्कोर

मध्यक्रम के बल्लेबाज मनदीप सिंह (नाबाद 130) और विकेटकीपर बल्लेबाज अनमोल मल्होत्रा (100) के शतकों की मदद से पंजाब ने शुरुआती झटकों से उबरकर हरियाणा के खिलाफ रणजी ट्राफी एलीट ग्रुप एफ के मैच के पहले दिन गुरुवार को यहां पांच विकेट पर 368 रन बनाये।

हरियाणा ने टॉस जीतकर पंजाब को पहले बल्लेबाजी सौंपी जो एक समय चार विकेट पर 165 रन बनाकर संघर्ष कर रहा था। इसके बाद मनदीप और मल्होत्रा ने पांचवें विकेट के लिये 163 रन जोड़कर स्थिति संभाली।

मनदीप ने अब तक अपनी पारी में 222 गेंदें खेलकर 13 चौके और दो छक्के लगाये हैं जबकि मल्होत्रा की 128 गेंद की पारी में 14 चौके और दो छक्के शामिल हैं। हरियाणा की तरफ से अंशुल कांबोज और अजित चहल ने दो-दो विकेट लिये हैं।स्टंप उखड़ने के समय मनदीप के साथ सनवीर सिंह 23 रन पर खेल रहे थे।

ग्रुप एफ के एक अन्य मैच में हिमाचल प्रदेश ने त्रिपुरा के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए छह विकेट पर 306 रन बनाये हैं। उसकी पारी का आकर्षण कप्तान अंकित कालसी के नाबाद 114 रन रहे जिसके लिये उन्होंने 220 गेंदें खेली और 13 चौके लगाये। उनके अलावा राघव धवन ने 68 रन का योगदान दिया।

करुण नायर के नाबाद शतक से कर्नाटक के आठ विकेट पर 268 रन

अनुभवी बल्लेबाज करुण नायर ने फॉर्म में वापसी करते हुए नाबाद 152 रन की लाजवाब पारी खेली जिससे तमिलनाडु ने मध्यक्रम लड़खड़ाने के बावजूद जम्मू कश्मीर के खिलाफ रणजी ट्राफी एलीट ग्रुप सी मैच में गुरुवार को यहां आठ विकेट पर 268 रन बनाये।

नायर पिछले कुछ समय से रन बनाने के लिये जूझ रहे थे लेकिन वह सही समय पर फॉर्म में लौटे। उन्होंने कर्नाटक के टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के लिये उतरने के बाद रवि कुमार समर्थ (45) के साथ दूसरे विकेट के लिये 98 रन की साझेदारी की।

नायर ने अब तक 267 गेंदों का सामना करके 21 चौके और एक छक्का लगाया है।ग्रुप सी के एक अन्य मैच में पुदुच्चेरी ने पारस डोगरा के नाबाद 107 रन की मदद से रेलवे के खिलाफ पहले दिन का खेल समाप्त होने तक पांच विकेट पर 284 रन बनाये। डोगरा के अलावा नयन श्याम ने 49 और कप्तान डी रोहित ने 41 रन का योगदान दिया।

डोगरा ने अब तक 168 गेंदें खेलकर 10 चौके और एक छक्का लगाया है। रेलवे की तरफ से राहुल शर्मा ने तीन विकेट लिये हैं।

हैदराबाद ने बंगाल को 242 और बड़ौदा ने चंडीगढ़ को 168 रन पर ढेर किया

बायें हाथ के स्पिनर तनय त्यागराजन के पांच विकेट की मदद से हैदराबाद ने रणजी ट्राफी एलीट ग्रुप बी मैच में गुरुवार को यहां बंगाल को पहली पारी में 242 रन पर आउट कर दिया।

त्यागराजन ने 37 रन देकर पांच विकेट लिये। रवि तेजा ने तीन और बी पुनैया ने दो विकेट लेकर उनका अच्छा साथ दिया। पहले बल्लेबाजी का न्योता पाने वाले बंगाल की तरफ से आठवें नंबर के बल्लेबाज अभिषेक बनर्जी ने सर्वाधिक 73 रन बनाये जबकि शाहबाज अहमद ने 40 रन का योगदान दिया।

हैदराबाद की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही और वह पहले दिन का खेल समाप्त होने पर दो विकेट पर 15 रन बनाकर संघर्ष कर रहा था। बंगाल की तरफ से दोनों विकेट मुकेश कुमार ने लिये। स्टंप उखड़ने के समय कप्तान तन्मय अग्रवाल पांच और हिमालय अग्रवाल 10 रन पर खेल रहे थे।


ग्रुप बी के ही एक अन्य मैच में बड़ौदा ने मध्यम गति के गेंदबाज अभिमन्यु सिंह राजपूत के पांच तथा भार्गव भट और बाबाशफी पठान के दो-दो विकेट की मदद से चंडीगढ़ को 168 रन पर आउट करके टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला सही ठहराया।

बड़ौदा ने पहले दिन का खेल समाप्त होने तक एक विकेट पर 80 रन बनाये हैं और अब वह चंडीगढ़ से 88 रन पीछे है। सलामी बल्लेबाज ज्योत्सनील सिंह 31 और प्रत्युष कुमार 22 रन पर खेल रहे हैं।(भाषा)



और भी पढ़ें :