अच्छी शुरुआत को नहीं भुना पाए पुजारा और रहाणे, दोनों बड़े नामों ने फिर किया निराश

पुनः संशोधित गुरुवार, 25 नवंबर 2021 (13:49 IST)
कानपुर:न्यूजीलैंड के खिलाफ ग्रीन पार्क में खेले जा रहे पहले टेस्ट में भारत के ज्यादातर सीनियर खिलाड़ियों को आराम दिया गया था। इस कारण बल्लेबाजी क्रम में अनुभव कम था लेकिन दो बड़े नाम मौजूद थे- चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे। भारतीय बल्लेबाजी का पूरा दारोमदार इन दो नामों पर ही था लेकिन पहले टेस्ट में यह दोनों अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरे और अपना विकेट अच्छी शुरुआत के बावजूद गंवा बैठे।

चेतेश्वर पुजारा फिर लौटे सस्ते में, घरेलू पिचों पर भी हो रहे हैं फ्लॉप

न्यूजीलैंड बनाम भारत के पहले टेस्ट के दौरान चेतेश्वर पुजारा ने पहले सत्र के अंत तक 61 गेंदो में बिना चौका या छक्का 15 रन बनाए थे। एक बार फिर उन्होंने फैंस को बताना चाहा कि पिच पर गुजारे मुश्किल समय को वह बड़े स्कोर में तब्दील करेंगे लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ।

दूसरे सत्र में वह टिम साउदी का शिकार हो गए और सिर्फ 26 रनों पर पवैलियन लौट गए। कभी राहुल द्रविड़ का दूसरा नाम कहे जाने वाले चेतेश्वर पुजारा घरेलू पिचों पर भी नाकाम साबित हो रहे हैं।

अगर घरेलू पिच पर उनकी पिछली 6 पारियों को देखा जाए तो पुजारा, 15, 21, 7,0, 17, 26 रन ही बना पाए हैं। कभी विदेशी पिचों पर टीम इंडिया पुजारा के भरोसे रहती थी लेकिन अब तो घरेलू पिचों पर ही वह बुरे फॉर्म से गुजर रहे हैं।
चेतेश्वर पुजारा ने आखिरी बार अपने बल्ले से शतक साल 2019 में सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जड़ा था। इस शतक को वह दोहरे शतक में तब्दील करने से चूक गए थे। हाल ही में चेतेश्वर पुजारा ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर 6 हजारी बने थे। कानपुर टेस्ट से पहले वह कुल 90 मैचों में 45 की औसत से पुजारा 6494 रन बना चुके हैं।
Cheteshwar Pujara

लेकिन हालिया फॉर्म उनका इतना लचर हो चुका है कि कभी टॉप 10 टेस्ट बल्लेबाजों में शामिल चेतेश्वर पुजारा 673 अंको के साथ 15वें स्थान पर हैं।
इस साल अब तक वह सिर्फ 2 अर्धशतक बना पाए हैं और दोनों इंग्लैंड के खिलाफ आए हैं। इसमें से एक शतक घरेलू पिच पर तो एक इंग्लैंड के मैदान पर लगाया गया है।
कप्तान रहाणे भी फॉर्म में वापस नहीं आ सके

चेतेश्वर पुजारा ने हाल ही में कहा था कि कप्तान अजिंक्य रहाणे अच्छी फॉर्म से सिर्फ एक पारी दूर हैं। ऐसा लग रहा था कि आज वह पारी दिखेगी लेकिन कुछ अच्छे शॉट्स लगाने के बाद अजिंक्य रहाणे प्लेड ऑन हो गए और पवैलियन लौट गए। उनको काइल जैमिसन ने आउट किया। रहाणे ने 35 रन बनाए और फॉर्म में लौटने का मौका गंवाया।

कानपुर टेस्ट से पहले रहाणे ने इस साल में 11 टेस्ट मैचों में 19 के औसत से रन बनाये हैं। कागज पर देखा जाए तो अजिंक्य रहाणे का प्रदर्शन लचर ही रहा है। कानपुर टेस्ट से पहले अपने पिछले 15 टेस्ट मैचों में अजिंक्य रहाणे ने 24.76 की औसत से 644 रन बनाए हैं। घरेलू और विदेशी पिच पर उन्हें रन बनाने में फिलहाल तकलीफ महसूस हुई है। रहाणे ने अपना आखिरी टेस्ट शतक साल 2020 में मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगाया था। जिसको लगभग एक साल हो गए हैं।



और भी पढ़ें :