लसिथ मलिंगा के खाली स्थान को भरना हमारे लिए एक बड़ी चुनौती है : श्रीलंकाई कप्तान

Last Updated: मंगलवार, 23 जुलाई 2019 (17:06 IST)
कोलंबो। श्रीलंकाई गेंदबाज लसिथ मलिंगा बांग्लादेश के खिलाफ आगामी 3 वनडे मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह देंगे।

कप्तान दिमुथ करूणारत्ने ने माना कि श्रीलंकाई क्रिकेट के लिए मलिंगा की कमी को भरना काफी मुश्किल होगा। उन्होंने कहा, हमारे लिए आने वाले महीनों में विकेट लेने वाले गेंदबाजों की पहचान करना सबसे बड़ी समस्या होगी। ऐसा गेंदबाज जो शुरुआती और मध्य ओवरों में विकेट निकाल सके।

करूणारत्ने ने कहा, बांग्लादेश के खिलाफ आगामी सीरीज में हमें नई प्रतिभाओं की पहचान करना होगा क्योंकि फिर मलिंगा उपलब्ध नहीं रहेंगे। वह न केवल पहले मैच के बाद सीरीज से हट जाएंगे बल्कि रिटायर हो रहे हैं। उन्होंने मुझे यही बात बताई है।
श्रीलंका के धुरंधर तेज गेंदबाज 35 वर्षीय मलिंगा ने करियर के 30 टेस्ट मैचों में 33.15 के औसत से 101 विकेट, 225 वनडे मैचों में 29.02 के औसत से 335 विकेट और 73 ट्वंटी-20 मैचों में 97 विकेट हासिल किए हैं।

इंग्लैंड में हुए आईसीसी विश्व कप में मलिंगा ने 28.69 के औसत से 7 मैचों में 13 विकेट निकाले थे जबकि टीम के अन्य सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज रहे इसुरू उदाना के खाते में इतने मैचों में 6 विकेट थे। नुवान प्रदीप ने 3 मैचों में 5 विकेट लिए थे लेकिन वह चोटों से प्रभावित रहे थे।

अगले वर्ष ऑस्ट्रेलिया में होने वाले ट्वंटी-20 विश्व कप और फिर 2023 विश्व कप को देखते हुए टीम के लिए अभी से मलिंगा के खाली स्थान को भरना चुनौती है। कप्तान ने कहा कि उनके लिए नए खिलाड़ियों को तैयार करना भी एक चुनौती है। अगले विश्व कप को देखते हुए जरूरी है कि युवा सीनियर खिलाड़ियों के अनुभव से सीखें।

श्रीलंका के लिए बांग्लादेश के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करना अहम होगा जिसका विश्व कप में प्रदर्शन उतार चढ़ाव भरा रहा था। लेकिन कई मैचों में उसने बड़े उलटफेर भी किए थे।

 

और भी पढ़ें :