0

विश्व का सबसे बड़ा प्राचीन शिवलिंग, जानिए भोजपुर के अधूरे भोजेश्वर मंदिर के अद्भुत रहस्य...

गुरुवार,मार्च 11, 2021
0
1
उत्तरी ध्रुव और दक्षिणी ध्रुव के बारे में वैसे तो बहुत लोग जानते ही होंगे लेकिन जो नहीं जानते हैं उनके लिए यहां प्रस्तुत है संक्षित जानकारी। अंग्रेजी में उत्तरी ध्रुव को नॉर्थ पोल और दक्षिणी ध्रुव को साउथ पोल कहते हैं। यह धरती के दो छोर है।
1
2
ब्लैक होल को हिन्दी में कृष्ण विवर कहते हैं। ब्लैक होल के बारे में सभी ने सुना होगा लेकिन हो सकता है कि कम लोग ही जानते होंगे कि Black hole क्या होता। क्या आप जानते हैं कि ब्लैक होल क्या होता है? नहीं, तो चलिए जान लेते हैं कि यह क्या होता है।
2
3
हमारे सौर पथ पर परिभ्रमण करने वाले ग्रहों की संख्या भारतीय ज्योतिष के अनुसार मुख्यत: 6 है जिनका धरती पर प्रभाव पड़ता है। ये छह ग्रह है:- सूर्य, बुध, मंगल, शुक्र, ब्रहस्पति और शनि। चंद्रमा धरती का उपग्रह है। इस तरह 7 ग्रह हुए। फिर दक्षिण और उत्तरी ...
3
4
गति ने ही मानव का जीवन बदला है और गति ही बदल रही है। बैलगाड़ी और घोड़े से उतरकर व्यक्ति साइकल पर सवार हुआ। फिर बाइक पर और अब विमान में सफर करने लगा। पहले 100 किलोमीटर का सफर तय करने के लिए 2 दिन लगते थे अब कार से 2 घंटे में 100 किलोमीटर पहुंच सकते ...
4
4
5
गाय के गोबर के कई उपयोग बताए जाते हैं। कुछ लोग इसे वैज्ञानिक नहीं मानते हैं और कुछ लोग मानते हैं। हालांकि गाय के गोबर के उपयोग के बारे में कई तरह की बातें हैं और कई प्रकार से इसका उपयोग करने को लेकर किताबें भी लिखी गई है। गाय का दूध और गाय के ...
5
6
भारत के एक ओर हिमालय तो तीन और समुद्र है। भारत तीन ओर से समुद्र से घिरा है और जिसके 13 राज्यों की सीमा से समुद्र लगा हुआ है। निम्न प्रमुख समुद्र तटों से समुद्र को निहारना बहुत ही रोमांचक अनुभव होता है। ये राज्य निम्न हैं- 1.आंध्रप्रदेश, 2.पश्चिम ...
6
7
सभी सागरों की गहराई अलग-अलग मानी गई है। हालांकि महासागरों की गहराई का रहस्य अभी भी बरकरार है। समुद्र की गहराई बेहद ठंडी, अंधेरी होती है और कभी-कभी तो ज्यादा दबाव के कारण यहां ऑक्सीजन भी काफी कम हो जाती है। धरती पर जितना दबाव महसूस होता है, समुद्र की ...
7
8
कई लोग समुद्र की लहरों की चपेट में आकर अपनी जिंदगी गवां बैठे हैं और कई लोग की जान जाते जाते बची है। मछुआरे, सैनिक और शोधकर्ता तो इन लहरों का सामना करना जानते हैं परंतु आम आदमी जब समुद्री तट पर जाता है तो वह शायद ही जान पाता है होगा कि समुद्र के ...
8
8
9
उत्तराखंड के चमोली जिले में बिजली उत्पादन की एक परियोजना चल रही है। जिसका नाम ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट हैं यहीं पर धौलीगंगा जल विद्युत परियोजना भी है। यह सरकारी नहीं बल्कि निजी क्षेत्र की परियोजना है। ऋषि गंगा नदी पर यह प्रोजेक्ट चल रहा था। ऋषि गंगा ...
9
10
उत्तराखंड के केदारधाम में चोराबाड़ी ग्लेशियर के टूटने से आई तबाही के बाद हमने हाल ही में देखा चमोली ग्लेशियर के टूटने से हुई तबाही को। ग्लेशियरों पर शोध करने वाले विशेषज्ञों के मुताबिक हिमालय के इस हिस्से में ही एक हज़ार से अधिक ग्लेशियर हैं। ...
10
11
शनि ग्रह के संबंध में ज्योतिष और खगोल विज्ञान दोनों की अलग अलग धारणाएं हैं। आओ जानते हैं कि खगोल विज्ञान क्या कहता है इस संबंध में संक्षिप्त जानकारी।
11
12
खगोल विज्ञान अर्थात एस्ट्रोनॉमी (Astronomy) परंतु हमारे देश में प्राचीनकाल से ही ज्योतिष अर्थात एस्ट्रोलॉजी (Astrology) प्रचलित रही है। क्या एस्ट्रोनॉमी से भिन्न है एस्ट्रोलॉजी। पर सवाल यह उठता है कि फिर क्या भारत में खगोल विज्ञान की उत्पत्ति नहीं ...
12
13
जब आप रात को सोते हैं और 7 या 8 घंटे बाद सुबह उठते हैं तो आप सूर्य को देखकर कहते हैं कि वाह कितनी अच्छी सुबह है, लेकिन जब आपकी सुबह ही 6 माह बाद होगी तो क्या कहेंगे? जी हां दोस्तों, आज हम जानेंगे उस जगह के बारे में जहां 6 महीने दिन और 6 महीना रात ...
13
14
समुद्र को सागर, पयोधि, उदधि, पारावार, नदीश, जलधि, सिंधु, रत्नाकर, वारिधि आदि नामों से भी पुकारा जाता है। अंग्रेजी में इसे सी (sea) कहते और महासागर को ओशन (ocean) कहते हैं। ब्रह्मांड में धरती धूल का कण भी नहीं। मान लो अगर धरती धूल के कण के बराबर है ...
14
15
भारत सहित दुनियाभर में लोग उड़न तश्तरी को देखे जाने के बाद करते हैं उनमें से कुछ तो एलियंस को भी देखे जाने का दावा करते हैं। एलियंस अर्थात अंतरिक्ष में किसी दूसरे ग्रह पर रहने वाले लोग जो उड़न तश्तरी अर्थात यूएफओ में सफर करते हैं। आओ जानते हैं इस ...
15
16
अंतरिक्ष में दो तरह के पिंड घूम रहे हैं, एक उल्कापिंड और दूसरा धूमकेतु। धूमकेतु को पुच्छल तारा भी कहते हैं। इसके पीछे जलती हुई पूंछ दिखाई देती है इसलिए इसे पुच्छल तारा भी कहते हैं। उल्कापिंड की अपेक्षा धूमकेतु ज्यादा तेजी से घूमते हैं। हमारे सौर ...
16
17
वॉशिंगटन। खगोल विज्ञानियों ने पृथ्वी के अब तक के सबसे नजदीकी ब्लैक होल का पता लगाया है। यह धरती के इतना नजदीक है कि इसके साथ नृत्य करते 2 तारों को बिना दूरबीन के देखा जा सकता है।
17
18
मॉस्को। रूस का मानवरहित कैप्सूलनुमा अंतरिक्ष यान अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र पहुंच गया है, जहां वह 3 सदस्यीय चालक दल के लिए 2 टन माल लेकर गया है। कजाखस्तान में रूस के बाइकोनूर प्रक्षेपण परिसर से उड़ान भरने के करीब 3.30 घंटे बाद ‘प्रोग्रेस’ ...
18
19
वर्मोंट (अमेरिका)। वैज्ञानिकों ने मेंढक के स्टेम सेल से दुनिया का पहला जिंदा और सेल्फ हीलिंग रोबोट तैयार किया है। इस रोबोट को बनाने में अफ्रीका में पाए जाने वाले स्टेम सेल का प्रयोग किया गया है। यह कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करने में बड़ा मददगार साबित ...
19