जम्मू-कश्मीर के रियासी में हाइब्रिड आतंकवादी गिरफ्तार, बड़े हमले की कोशिश नाकाम

पुनः संशोधित गुरुवार, 15 सितम्बर 2022 (14:25 IST)
हमें फॉलो करें
जम्मू। जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में गुरुवार को सुरक्षा बलों ने एक ‘हाइब्रिड आतंकवादी’ को गिरफ्तार करके बड़े आतंकवादी हमले की कोशिश को नाकाम करने का दावा किया है। सुरक्षा बलों ने आतंकवादी के ठिकाने से हथियार, गोला-बारूद और 1,81,000 रुपए नकद बरामद किए। इनका इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों के लिए किया जाना था।

पुलिस ने कहा कि गिरफ्तार हाइब्रिड आतंकवादी की पहचान बल-अंगराला के निवासी जफर इकबाल के रूप में हुई है। वह राजौरी जिले में सुरक्षा बलों से हुई मुठभेड़ में मारे गए लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी मोहम्मद इसहाक का भाई है। हाइब्रिड आतंकवादी गैर-सूचीबद्ध कट्टरपंथी लोग होते हैं, जो आतंकवादी हमलों को अंजाम देकर फिर से आम जीवन जीने लगते हैं।

पुलिस ने कहा कि महोर थाने को सूचना मिली थी कि जफर इकबाल पाकिस्तान में बैठे आतंकी आकाओं के संपर्क में है। इस सूचना के आधार पर, पुलिस, राष्ट्रीय राइफल्स और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की टीमों ने अंगराला जंगल में एक संयुक्त अभियान शुरू किया था।
अभियान के दौरान इलाके में एक ठिकाने से दो पिस्तौल, चार मैगजीन, 22 कारतूस और एक ग्रेनेड बरामद किया गया है। बाद में 1,81,000 रुपये बरामद किए गए, जिनका आंतकवादी गतिविधियों में इस्तेमाल किया जाना था।
संयुक्त टीम ने प्लासू नाले से 'हाइब्रिड आतंकवादी' इकबाल को गिरफ्तार किया। पूछताछ के दौरान उसने कबूल किया कि वह आतंकवादी समूहों के संपर्क में था।

रियासी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अमित गुप्ता ने कहा कि इकबाल की गिरफ्तारी एक बड़ी सफलता है। गुप्ता ने कहा कि पाकिस्तान में बैठे आतकंवादियों के आका रियासी के ऊंचे इलाकों में आतंकवाद को फिर से जिंदा करने की लगातार कोशिशें कर रहे हैं और इकबाल जैसे लोग उनके लिए काम कर रहे हैं।



और भी पढ़ें :