स्वांते पैबो को चिकित्सा का NobelPrize, विलुप्त प्रजातियों के जिनोम रिसर्च के लिए हुए सम्मानित

पुनः संशोधित सोमवार, 3 अक्टूबर 2022 (17:44 IST)
हमें फॉलो करें
स्टॉकहोम।
NobelPrize 2022 : स्वीडन के स्वांते पैबो को चिकित्सा के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार देने की घोषणा की गई। विलुप्त होमिनिन और मानव विकास के जीनोम से संबंधित उनकी खोजों के लिए उन्हें यह सम्मान दिया गया है।


चिकित्सा के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार के साथ ही नोबेल पुरस्कारों की घोषणा की शुरुआत हो गई है। अब मंगलवार को भौतिकी, बुधवार को रसायन विज्ञान और गुरुवार को साहित्य के क्षेत्र में इन पुरस्कारों की घोषणा की जाएगी।
नोबेल कमेटी के सचिव थॉमस पेर्लमैन ने स्टाकहोम, स्वीडन के कैरोलिंस्का इंस्टीट्यूट में यह ऐलान किया। पैबो ने आधुनिक मानव और हमारी करीबी विलुप्तप्राय प्रजाति निएंडरथल और डेनिसोवंस के ‘जीनोम’ की तुलना के लिए शोध का नेतृत्व किया। इस रिसर्च के जरिए यह प्रदर्शित किया कि इन प्रजातियों के बीच मिश्रण है। नोबेल शांति पुरस्कार की घोषणा शुक्रवार को और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में पुरस्कार की घोषणा 10 अक्टूबर को की जाएगी।
पुरस्कार में 1

करोड़ स्वीडीश क्रोनोर (करीब 7.31 करोड़ रुपए) की नकद राशि प्रदान की जाएगी जो विजेताओं को 10 दिसंबर को दी जाएगी। यह राशि पुरस्कार की स्थापना करने वाले स्वीडन के आविष्कारक अल्फ्रेड नोबल द्वारा छोड़ी गई वसीयत से दी जाती है।
Edited by Sudhir Sharma



और भी पढ़ें :