मौलाना करे सो कम, इस्माइली इमोजी को बताया इस्लाम विरोधी, जारी किया फतवा

पुनः संशोधित गुरुवार, 24 जून 2021 (15:25 IST)
ढाका। बांग्लादेश के मौलवी अहमदुल्लाह को का स्माइली इमोजी रास नहीं आया। उन्होंने इसे इस्लाम के खिलाफ बताते हुए 'HA HA' इमोजी के खिलाफ फतवा भी जारी कर दिया।

टीवी शो पर भी धार्मिक विषयों पर चर्चा में भाग लेने वाले इन मौलाना अहमदुल्लाह के सोशल मीडिया पर लाखों फॉलोअर्स हैं। मौलाना ने एक वीडियो जारी कर कहा कि इस्माइली इमोजी मुस्लिमों के लिए हराम है। वीडियो में मौलाना ने कहा कि आजकल हम फेसबुक के हाहा इमोजी का उपयोग लोगों का मजाक बनाने के लिए करते हैं। इस वीडियो को अभी तक 20 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है।

मौलाना ने वीडियो में कहा कि यदि हम हंसी-मजाक के लिए 'HA HA' इमोजी का इस्तेमाल करते हैं और पोस्ट करने वाला व्यक्ति भी इसे उसी तरह समझता है, तो कोई समस्या नहीं है। लेकिन, यह टिप्पणी लोगों का उपहास करने के उद्देश्य से है तो यह इस्लाम में पूरी तरह हराम है। उन्होंने कहा कि लोगों का उपहास करने के लिए हाहा इमोजी का उपयोग न करें।



और भी पढ़ें :