1. लाइफ स्‍टाइल
  2. सेहत
  3. हेल्थ टिप्स
  4. health benefits of water chestnut
Written By

सिंघाड़े के फायदे : डायबिटीज को कंट्रोल कर सकते हैं water chestnut, जानिए health benefits

health benefits of water chestnut
सर्दियों के आते ही सिंघाड़ा मिलना शुरू हो जाता है। कई लोगों को ये खूब पसंद भी आता है। इसे अंग्रेजी में वाटप चेस्टनट कहा जाता है। सिंघाड़ा खाने में जितना स्वादिष्ट है उतना ही इसके फायदे अनेक हैं। स्वास्थ्य के लिहाज से ये काफी फायदेमंद होता है। इसका नियमित सेवन करते हैं तो कई बीमारियों से सुरक्षा मिलती हैं। तो आइए बिना देरी किए जानते हैं सिंघाड़े के फायदों के बारे में.......
 
डायबिटीज के मरीजों को शुगर कंट्रोल करना बेहद जरूरी होता है। इसके साइड इफैक्ट्स बेहद खतरनाक होते हैं। हार्ट अटैक, किडनी फेल होने का खतरा, आंखों की रोशनी चले जाना,ब्रेन हेमरेज जैसी समस्या घर कर सकती है। अत: आप सिंघाड़े का सेवन कर सकते हैं। 
 
जी हां, वह हल्के मीठे होते हैं लेकिन डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए लाभदायक है। प्रतिदिन इसका सेवन करने से डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है।   
 
सिंघाड़े में बड़ी मात्रा में पोटेशियम होता है जो सोडियम के स्‍तर को कम करता है। जिससे ब्लड प्रेशर कम होता है। साथ ही बेड कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में भी मदद करता है। सिंघाड़े में विटामिन ए, सी, सिट्रिक एसिड, फास्फोरस, मैंगनीज, कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है।  
 
ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए सिंघाड़े खाना चाहिए। इन्‍हें अच्‍छे धोकर थोड़ा उबाल लें। इसके बाद खाएं। साथ ही एसिडिटी, अपच की समस्या में भी आराम मिलेगा। सिंघाड़ के साथ ही इसके आटे का सेवन भी कर सकते हैं। उसके लिए आप राब बना सकते हैं। या दूध में भी उबाल कर पी सकते हैं। गेहूं की रोटी की बजाए सिंघाड़े के आटे की रोटी का सेवन कर सकते हैं। सिंघाड़े के आटे का सेवन करने के और भी कई सारे फायदे है।
 
अगर आपको नींद नहीं आ रही है तो ठंड में सिंघाड़े का सेवन करें। इससे धीरे-धीरे अनिद्रा की समस्या दूर हो जाएगी।
 
पेट की दिक्कत होने पर आपकी दिनचर्या भी बिगड़ जाती है। भूख नहीं लगना, रूक-रूक कर पेट दुखना, गैस बनना या अधिक भूख लगना। इन सभी पेट संबंधी समस्या में आराम मिलता है।
 
सिंघाड़ा सीजनल फल है। यह ठंड के मौसम में ही आता है। डॉक्टर भी इम्‍यूनिटी बूस्‍ट करने के लिए सीजनल फूड खाने की सलाह देते हैं। इसका सेवन करने से कमजोरी दूर होती है। इसमें मौजूद कैल्शियम की मात्रा दांतों और हड्डियों को मजबूत बनाता है।
 
अगर आपको डायबिटीज बहुत ज्यादा है तो डॉक्टर की सलाह से ही सेवन करें। क्‍योंकि इसमें ग्लूकोज पाया जाता है। लेकिन मीठा खाने की चाह रखते हैं तो सिंघाड़े का सेवन कर सकते हैं।
 
दिल के मरीजों को रोजाना सिंघाड़ा का सेवन करना चाहिए। ये बुरे कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। इसलिए इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करें।
 
सांस संबंधी परेशानियों से राहत पाने के लिए सिंघाड़ा बहुत फायदेमंद होता है। अस्थमा के मरीजों के लिए सिंघाड़ा बहुत लाभकारी होता है। सिंघाड़े को नियमित रूप से खाने से सांस संबधी समस्याओं से भी राहत मिलती है।
 
मेटाबॉलिज्म को मजबूत करने के लिए सिंघाड़ा का सेवन लाभकारी होता है। ये फल वजन को नियंत्रण में रखने में भी सहायक होता है। अगर आप अपने वजन को कम करना चाहते है, तो सिंघाड़े को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें।
 
बवासीर से जो लोग परेशान होते है उनके लिए भी सिंघाड़े का सेवन काफी लाभकारी होता है। ये इस मुश्किल समस्या से निजात दिलाने में कारगर होता है।
 
सिंघाड़े में कैल्शियम भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके सेवन से हड्ड‍ियां और दांत मजबूत होते हैं। साथ ही यह आंखों के लिए भी फायदेमंद है।
ये भी पढ़ें
पौष्टिक तत्वों से भरपूर होता है पिस्ता, जानिए क्या हैं बेहतरीन फायदे