मंगलवार, 16 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. लाइफ स्‍टाइल
  2. सेहत
  3. हेल्थ टिप्स
  4. first trimester of pregnancy
Written By WD Feature Desk

गर्भावस्था की पहली तिमाही में न खाएं ये चीजें वरना शिशु को होगा नुकसान

गर्भावस्था की पहली तिमाही में न खाएं ये चीजें वरना शिशु को होगा नुकसान - first trimester of pregnancy
गर्भावस्था की पहली तिमाही (First Trimester Of Pregnancy): पहली बार मां बनने का अनुभव हर एक महिला के लिए बहुत खास होता है। इस दौरान हर महिला काफी खुश होती है लेकिन कहीं न कहीँ वो अंदर से थोड़ी डरी हुई भी होती है। ऐसा इसलिए होता है क्यूकि पहली बार मां बनते के दौरान ऐसी कई बातें होती हैं जिनके बारे में महिलाओं को जानकारी नहीं होती।
यदि हम डॉक्‍टर्स की बात करें तो वे गर्भावस्था के नौ महीनों को 3 तिमाही (Trimester) में बांटते हैं। हर तिमाही में 3 महीने होते हैं।

यह भी देखें: 

 
गर्भावस्था का पहला तिमाही (First Trimester): गर्भावस्था के शुरूआती तीन महीने सबसे महत्वपूर्ण माने जाते हैं, क्योंकि इस दौरान गर्भवती महिलाओं के शरीर को सभी पोषक तत्वों की उचित मात्रा में आवश्यकता होती है। इस समय गर्भ में पल रहा बच्चा बहुत तेजी से विकसित होता है और यही वह समय है जब महिलाओं को अपने बच्चे के स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी पोषक तत्वों का सेवन करन चाहिए। परंतु इस दौरान कुछ खाघ पदार्थों का सेवन करना महिलाओं लिए और उनके शिशु के लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है। आज हम आपको ऐसे ही कुछ खाद्य पदार्थों की जानकारी देंगे जिनका सेवन तीसरी तिमाही में सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है।

फास्ट फूड
फास्ट फूड में प्रोसेस्ड फूड्स और रिफाइंड फूड्स शामिल होते हैं, जो आपके स्वस्थ्य को नुकसान पहुंचाते हैं। इनमें सही मात्रा में पोषक तत्व नहीं होते हैं जो आपकी गर्भावस्था के लिए आवश्यक होते हैं। फास्ट फूड खाने से न सिर्फ मां की परेशानी बढ़ती है बच्चे के लिए भी कई समस्याएं पैदा हो सकती हैं। इसलिए डॉक्टर्स प्रेगनेंसी में ज्यादा तला-भुना और बाहर का खाना न खाने की सलाह देते हैं।

चाय और कॉफी
गर्भावस्था के शुरूआती तीन महीनों में कैफीन की कम से कम मात्रा लेने की सलाह देते हैं। चाय, कॉफी और चॉकलेट जैसी चीजों में कैफीन पाया जाता है। ज्यादा मात्रा में कैफीन लेने से गर्भपात का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए जिन महिलाओं को बार-बार चाय या कॉफ़ी पीने की आदत है उन्हें इस दौरान कैफीन के सेवन पर कंट्रोल रखना चाहिए।

एल्कोहल
एल्कोहल का सेवन गर्भावस्था के दौरान बिल्कुल नहीं करना चाहिए। एल्कोहल से गर्भपात और मृत जन्म का खतरा चार गुना बढ़ जाता है और शराब के सेवन से बच्चे के मस्तिष्क विकास पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। अध्ययन से भी पता चलता है कि गर्भावस्था के दौरान एल्कोहल का सेवन होने वाले बच्चे के लिए सुरक्षित नहीं होता है।

अजीनोमोटो
चाइनीज फूड में पाया जाने वाले अजीनोमोटो का सेवन भ्रूण में पल रहे बच्चे के मस्तिष्क के विकास को बहुत ज्यादा प्रभावित करता है। स्ट्रीट फूड और चाइनीज फूड में अजीनोमोटो बड़ी मात्रा में इस्तेमाल किया जाता है इसलिए गर्भवती महिलाओं को ऐसे फ़ूड से बचने की सलाह दी जाती है।

कच्चा अंडा
गर्भवती महिलाओं को कभी भी कच्चा अंडा नहीं खाना चाहिए। यदि खाना है तो अंडो को अच्छी तरह से पका कर ही खाना चाहिए। अधपके अंडे के सेवन से सालमोनेला संक्रमण का खतरा हो सकता है। सालमोनेला एक तरह का संक्रमण होता है जिससे गर्भवती महिला को उल्टी और दस्त की समस्या हो सकती है।


अस्वीकरण (Disclaimer) : चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म, ज्योतिष, इतिहास, पुराण आदि विषयों पर वेबदुनिया में प्रकाशित/प्रसारित  वीडियो, आलेख एवं समाचार सिर्फ आपकी जानकारी के लिए हैं, जो विभिन्न सोर्स से लिए जाते हैं। इनसे संबंधित सत्यता की पुष्टि वेबदुनिया नहीं करता है। सेहत  या ज्योतिष संबंधी किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। इस कंटेंट को जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है जिसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है।

 
ये भी पढ़ें
Perfume Side Effects: इन 5 कारणों से स्किन के लिए हानिकारक है परफ्यूम