Daddu ka Darbar : कोरोना और शादी का भोज

Corona n marriage
प्रश्न : दद्‍दू जी, क्या कारण है कि में मात्र दो सौ लोगों के सम्मिलित होने की अनुमति है जबकि राजनीतिक रैलियों तथा आयोजनों में 10 हजार से भी अधिक लोग शामिल हो रहे हैं और कहीं कोई रोक टोक नहीं। शादियों में कोरोना का खतरा और राजनीतिक समारोहों में कोई खतरा नहीं। ये क्या बात हुई?


उत्तर : देखिए इससे दो बातें स्पष्ट होती हैं। पहली यह कि कोरोना वायरस भी नेताओं के भाषणों से डरता है। इसलिए वहां नहीं फटकता और दूसरी कोरोना को भी आम भारतीय की तरह शादी समारोह में परोसे जाने वाले बेहद पसंद हैं। इसलिए वहां बिना निमंत्रण पत्रिका के पहुंच जाता है।



और भी पढ़ें :