Corona की तीसरी लहर से निपटने को तैयार... मराठा आरक्षण पर बोले उद्धव ठाकरे- SC से मिली निराशा, केंद्र मदद करे

पुनः संशोधित बुधवार, 5 मई 2021 (22:54 IST)
मुंबई। के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बुधवार को कहा कि राज्य में संक्रमण के मामलों में गिरावट के बावजूद लोगों को आत्मसंतुष्ट नहीं होना चाहिए। सोशल मीडिया पर प्रदेश को संबोधित करते हुए ठाकरे ने कहा कि हम वायरस की तीसरी लहर के लिए तैयारी कर रहे हैं। ठाकरे ने कहा कि ने कोरोनावायरस का प्रसार रोकने के लिए मुंबई नगर निगम के काम की सराहना की है।
ALSO READ:
विदेश मंत्री जयशंकर बोले- कोरोना की दूसरी लहर है बहुत बड़ी चुनौती, इस पीड़ा में दुनिया है हमारे साथ...
उन्होंने कहा कि केंद्र की वैज्ञानिक समिति ने कोरोनावायरस की तीसरी लहर के बारे में चेतावनी दी है। हम पिछले महीने से ही उसकी तैयारी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कई जिलों में मामलों में गिरावट देखी जा रही है जबकि कुछ अन्य जिलों में मामले बढ़ रहे हैं।
ठाकरे ने कहा कि राज्य को ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता बढ़ाकर 3000 मीट्रिक टन करनी होगी और इस पर काम शुरू कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि हम रोजाना 1200 मीट्रिक टन ऑक्सीजन उत्पादन करते हैं लेकिन हमारी खपत 1700 मीट्रिक टन है।
उच्चतम न्यायालय द्वारा को खारिज किये जाने के फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए ठाकरे ने कहा कि वह इस बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर दखल देने और समुदाय को राहत पहुंचाने का अनुरोध करेंगे।
ठाकरे ने राज्य के लोगों से अपील की कि वे उन लोगों की बातों से गुमराह न हों जो मराठा आरक्षण के मुद्दे को लेकर अशांति पैदा करना चाहते हैं। (भाषा)



और भी पढ़ें :