गुरुवार, 25 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. खेल-संसार
  2. अन्य खेल
  3. समाचार
  4. MC Marykom preparing for Tokyo Olympics
Written By
Last Modified: बुधवार, 5 मई 2021 (22:24 IST)

मैरीकॉम कर रहीं टोक्‍यो ओलंपिक की तैयारी, एएसआई पुणे में करेंगी अभ्यास

मैरीकॉम कर रहीं टोक्‍यो ओलंपिक की तैयारी, एएसआई पुणे में करेंगी अभ्यास - MC Marykom preparing for Tokyo Olympics
नई दिल्ली। कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामले से मुक्केबाजी राष्ट्रीय शिविर के निलंबित होने के कारण 6 बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुकीं दो 2 अन्य महिला मुक्केबाजों के साथ पुणे स्थित सेना खेल संस्थान (एएसआई) में टोक्यो में होने वाले खेलों की तैयारी करेंगी।

ओलंपिक का टिकट हासिल कर चुकी लवलीना बोरगोहेन (69 किग्रा) मैरीकॉम (51 किग्रा) से पहले इस संस्थान में पहुंच गई हैं। टोक्यो खेलों के लिए क्वालीफाई करने वाली सिमरनजीत कौर (60 किग्रा) कोविड-19 से जुड़ा पृथकवास पूरा करने के बाद यहां अभ्यास शुरू करेंगी।

मुक्केबाजों को तीन अलग-अलग समूहों में रखा जाएगा, जिनमें से प्रत्‍येक के साथ दो-दो भागीदारों (स्पैरिंग पार्टनर) को रखा जाएगा ताकि संक्रमण का जोखिम कम किया जा सके। ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुकीं एक अन्य मुक्केबाज पूजा रानी (75 किग्रा) हालांकि बेल्लारी के इंस्पायर इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोर्ट्स में प्रशिक्षण लेना जारी रखेंगी, जो उनका वर्तमान शिविर है।

मैरीकॉम को हालांकि उनके कोच और पूर्व मुक्केबाज छोटे लाल यादव का अभी साथ नहीं मिलेगा। वे पिछले महीने इस वायरस से संक्रमित होने के बाद से पृथकवास में हैं। अगले कुछ दिनों में नेगेटिव रिपोर्ट आने के बाद उनके शिविर में शामिल होने की उम्मीद है।

मैरीकॉम ने कहा, मैं आज जा रही हूं। अभ्यास शिविर का इंतजार कर रही हूं। कुछ समय में छोटे ठीक हो जाएंगे। मुझे उम्मीद है कि वहां अभ्यास के दौरान मेरा टीकाकरण हो जाएगा। उन्होंने कहा, दिल्ली शिविर के निलंबन के बाद अभ्यास करना मुश्किल हो गया था, लेकिन उम्मीद है कि अब यह वापस पटरी पर आ जाएगा। मैं एएसआई में मौजूद पुरुष मुक्केबाजों के साथ भी प्रशिक्षण ले सकती हूं, मैं नियमित रूप से इस तरह का अभ्यास करती हूं ताकि लय में रहूं।
मुक्केबाजों के लिए अगला बड़ा टूर्नामेंट एशियाई चैंपियनशिप है। इसका आयोजन पहले दिल्ली में होना था, लेकिन कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण इसे दुबई में 21 मई से कराया जाएगा। मैरीकॉम ने कहा, यह एक बड़ी प्रतियोगिता है और हमें ओलंपिक से पहले इसकी सख्त जरूरत है। प्रशिक्षण और अभ्यास एक बात है, वास्तविक प्रतिस्पर्धा से अलग अनुभव मिलता है। हमें एशियाई चैंपियनशिप में खुद को परखने की जरूरत है।
भारतीय महिला मुक्केबाजी के हाई परफॉरमेंस निदेशक रफाएल बर्गामास्को और मुख्य कोच मोहम्मद अली कमर उन 21 सदस्यों में शामिल थे, जिन्हें यहां इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में शिविर के दौरान कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया था।

बर्गामास्को और कमर इससे उबर गए हैं लेकिन अभी शिविर से नहीं जुड़ेंगे। बर्गामास्को निजी काम के लिए इटली में हैं तो वहीं अली कमर कोलकाता में अपने घर पर पृथकवास में हैं। भारतीय मुक्केबाजी महासंघ (बीएफआई) के महासचिव हेमंत कलिता ने कहा, एशियाई चैंपियनशिप और ओलंपिक खेलों के करीब आने के साथ हमारा ध्यान समय के सही उपयोग पर है। इन दोनों प्रतियोगिताओं से पहले पूरा अभ्यास करना होगा।
भारतीय खेल प्राधिकरण ने जुलाई के अंत तक के लिए एएसआई में शिविर को मंजूरी दे दी है। टोक्यो ओलंपिक खेल 23 जुलाई से शुरू होने वाले हैं। ओलंपिक टिकटधारी मुक्केबाजों के अलावा युवा विश्व चैंपियन अरुंधति चौधरी (69 किग्रा), मंजू रानी (48 किग्रा), सोनिया लाथेर (57 किग्रा), लालबुत्सैही (64 किग्रा), शशि चोपड़ा (64 किग्रा) और जैस्मीन (57 किग्रा) को इस शिविर के लिए चुना गया है।(भाषा)
ये भी पढ़ें
कोरोनाकाल में IPL से विदेशी खिलाड़ियों की घर वापसी, मुश्किल में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर