देश में 191 दिन में Corona के सबसे कम एक्टिव केस की संख्या, अंडमान एवं निकोबार में एक भी नहीं मामला

Last Updated: सोमवार, 27 सितम्बर 2021 (11:42 IST)
नई दिल्ली। भारत में 1 दिन में कोविड-19 के 26,041 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,36,78,786 हो गई, वहीं उपचाराधीन मरीजों की संख्या कम होकर 2,99,620 हुई, जो 191 दिन में सबसे कम संख्या है।
ALSO READ:

कोरोना के बाद डिप्रेशन से बचना है तो अपनाएं डैमेज थेरेपी

केंद्रीय की ओर से सुबह 8 बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार संक्रमण से 276 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,47,194 हो गई। देश में अभी 2,99,620 लोगों का संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 0.89 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में कुल 3,856 की कमी दर्ज की गई। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 97.78 प्रतिशत है।


देश में पिछले साल 7 अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और 5 सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी, वहीं संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर को ये मामले 1 करोड़ के पार, इस साल 4 मई को 2 करोड़ के पार और 23 जून को 3 करोड़ के पार चले गए थे।


में संक्रमण का एक भी मामला नहीं : अंडमान एवं द्वीप समूह में पिछले 24 घंटे में कोरोनावायरस संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया है। एक स्वास्थ्य अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि केंद्र शासित प्रदेश में संक्रमण के अभी तक कुल 7,618 मामले सामने आए हैं। अभी 13 लोगों का कोरोनावायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है। ये सभी लोग दक्षिण अंडमान जिले में उपचाराधीन हैं। उत्तर एवं मध्य अंडमान और निकोबार जिले में संक्रमण का अभी कोई मामला नहीं है। केंद्र शासित प्रदेश में अभी तक कुल 7,476 लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं।
उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में संक्रमण से मौत का भी कोई मामला सामने नहीं आया। मृतक संख्या 129 है। केंद्र शासित प्रदेश में अभी तक 5,45,708 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है और संक्रमण दर 1.40 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह में कुल 4,36,070 लोगों को कोविड-19 रोधी टीके की खुराक दी जा चुकी है जिनमें से 2,88,441 लोगों को दोनों खुराकें दी जा चुकी हैं, वहीं 1,47,629 लोगों को टीके की पहली खुराक दी गई है।



और भी पढ़ें :