पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान की नातिन ने जीती Corona की जंग

Chetan Chauhan_Cricketer
पुनः संशोधित शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020 (16:43 IST)
मुरादाबाद। पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी एवं मंत्री चेतन चौहान की ने (Corona virus) की जंग आज जीत ली है। फ्रांस से लौटने के बाद उन्हें कोरोना पॉजिटिव पाया गया था।
मुरादाबाद के नोडल अधिकारी डॉ. डीके प्रेमी ने शुक्रवार को बताया कि चेतन चौहान की नातिन मारिशा को 19 मार्च को कोरोना संक्रमण के लक्षण दिखाई देने के बाद मुरादाबाद के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह फ्रांस से लौटकर आई थीं और उनकी सैंपल रिपोर्ट के जांच में कोरोना पॉजिटिव पता चलने के बाद से वह जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती रहीं।

उन्होंने बताया कि 28 मार्च को भेजे गए सैंपल में उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद शनिवार को युवती का दूसरा सैंपल भेजा गया। नोडल अधिकारी ने बताया कि युवती की पॉजिटिव केस में दो सैंपल लगातार निगेटिव मिले। उसके बाद एक और सैंपल जांच के लिए भेजा गया जिसमें निगेटिव रिपोर्ट मिलने के बाद चिकित्साकर्मियों ने फूलों के गुलदस्ते देते हुए आज अस्पताल से डिस्चार्ज किया।

कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान ने अपने बयान में बताया कि भानजी की बेटी मारिशा ने देश के लोगों को कोरोना से लड़ने की हिम्मत दी है। चौहान ने विश्वास व्यक्त किया कि अनुशासन और के नियमों का अक्षरश: पालन करके देश ‘शत्रु सर्वत्र अदृश्य’ कोरोना महामारी के खिलाफ जंग जीतेगा।

उन्होंने कोरोना योद्धा, स्वास्थ्य कर्मियों का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में इस संकट से निपटने में संसाधनों की कमी को बाधक नहीं बनने दिया जाएगा। इसके लिए राज्य सरकार कटिबद्ध है। लॉकडाउन के पूरी तरह पालन में कम से कम दिक्कतों का सामना करना पड़े, इसके लिए भरसक प्रयास किए जा रहे हैं।

इस मौके पर मारिशा ने भी प्रधानमंत्री, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री, जिला अधिकारी के साथ ही कोरोना फाइटर्स स्वास्थ्यकर्मियों का आभार व्यक्त किया। अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद फिलहाल वह नाना के पैतृक घर मूढांपाडे (मुरादाबाद) अपनी मम्मी से मिलने गई हैं और संभवतः लॉकडाउन खुलने तक वह वहीं पर रहेंगी।(वार्ता)


और भी पढ़ें :