पुणे की महिला की श्रीनगर में Corona से मौत, श्रीनगर जिला ऑरेंज कैटेगरी में

खतरे के बावजूद ट्यूलिप गार्डन में जुट रही भीड़, 3 अप्रैल से शुरू होगा जश्ने कश्मीर महोत्सव

सुरेश एस डुग्गर| पुनः संशोधित बुधवार, 31 मार्च 2021 (21:32 IST)
जम्मू। जम्मू कश्मीर में कोरोनावायरस (Coronavirus) का विस्फोट हो गया है। पुणे से आई एक टूरिस्ट महिला की कोरोना के कारण में हो गई है। कोरोना मामलों में तेजी से बढ़त के बाद श्रीनगर को ऑरेंज कैटेगरी में डाल दिया गया है। सबसे हैरानगी की बात यह है कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बावजूद में भीड़ जुट रही है। प्रशासन 3 अप्रैल से कश्मीर में जश्ने कश्मीर महोत्सव आयोजित करने की तैयारियों में भी जुट गया है।
कश्मीर घाटी में कुछ दिन पहले ही घूमने के मकसद से अपने बेटे के साथ बुजुर्ग महिला की गत देर रात सीडी अस्पताल श्रीनगर में कोरोना से मौत हो गई। 70 वर्षीय यह बुजुर्ग महिला महाराष्ट्र पुणे की रहने वाली थी। अस्पताल प्रबंधन ने बुजुर्ग महिला की मौत की पुष्टि करते हुए कहा कि 30 मार्च को महिला को सीडी अस्पताल में लाया गया था।

उसे सांस लेने में दिक्कत आ रही थी और उसमें कोरोना के लक्षण भी देखने को मिले। महिला की गंभीर हालत को देखते हुए उसे भर्ती कर लिया गया। उसके सैंपल जांच के लिए भेजे गए। कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने पर उसका इलाज शुरू कर दिया गया। गत मंगलवार रात को महिला की हालत अचानक से खराब हो गई और उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

प्रदेश में पिछले चौबीस घंटे में प्रदेश में 359 नए संक्रमित मामले मिले, जो दिसंबर 2020 के बाद एक ही दिन में सबसे ज्यादा संक्रमित सामने आए हैं। इसमें 266 संक्रमित कश्मीर संभाग से हैं। प्रदेश में सक्रिय मामलों का आंकड़ा 2293 तक पहुंच गया है। इस बीच कश्मीर में एक और संक्रमित की मौत हो गई है। प्रदेश में अब तक 1990 लोगों की मौत हो चुकी है। प्रदेश के सभी बीस जिले कोविड संक्रमण की चपेट में हैं।

इस बीच कश्मीर में ट्यूलिप गार्डन में ऐसी लापरवाही देखने को मिल रही है, जो कि बड़ी मुसीबत खड़ी कर सकती है। स्थानीय लोग और पर्यटक बिना मास्क के घूमते नजर आए। इसके साथ ही सेल्फी लेने के दौरान लोगों का कोविड दिशानिर्देशों का पालन न करना भी चिंता का विषय बना है। इतना ही नहीं सामाजिक दूरी की भी जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही हैं।

कोरोना के बढ़ते मामलों को गंभीरता से लेते हुए प्रदेश सरकार ने थ्री-टी रणनीति पर काम करने का फैसला किया है। टेस्ट, ट्रेस और ट्रीटमेंट पर ध्यान दिया जाएगा। कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए और अधिक टेस्ट किए जाएंगे। में आरटीपीसीआर टेस्ट को कम से कम 70 फीसदी तक पहुंचाया जाएगा।

प्रशासन के ताजा निर्देश के अनुसार, श्रीनगर को छोड़कर प्रदेश के सभी जिले ग्रीन जोन में बने रहेंगे। जम्मू कश्मीर का प्रवेश द्वार लखनपुर पांच सौ मीटर के दायरे में पहले की तरह रेड जोन में रहेगा। जवाहर टनल के दोनों तरफ का इलाका भी रेड जोन में ही रहेगा।



और भी पढ़ें :