12 देशों से लाए जाएंगे 15000 भारतीय नागरिक

पुनः संशोधित मंगलवार, 5 मई 2020 (16:20 IST)
नई दिल्ली। केन्द्र सरकार ने फैसला किया है कि एक सप्ताह में 12 देशों से 15 हजार नागरिकों को वापस लाया जाएगा, जो (Corona Virus) के चलते विभिन्न देशों में फंसे हुए हैं।
उल्लेखनीय है कि भारत में भी विभिन्न राज्यों में फंसे मजदूरों और कामगारों को विशेष रेलगाड़ियों से अपने-अपने राज्यों में भेजने की शुरुआत कर दी गई है।

नागर विमानन मंत्री हरदीपसिंह पुरी ने कहा कि विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने के लिए सरकार 64 विशेष उड़ानों का परिचालन करेगी। 7 मई से 13 मई तक एक सप्ताह के लिए कुल 64 उड़ानों के परिचालन की योजना बनाई है। इनमें अधिकतर उड़ानों का परिचालन सरकारी सेवा कंपनी एयर इंडिया और उसकी इकाई एक्सप्रेस एयर करेगी।

खाड़ी देशों से इन विशेष उड़ानों की शुरुआत की जाएगी। 7 और 8 मई को इन देशों से यात्रियों को लाया जाएगा।
गृह मंत्रालय ने सोमवार को कहा था कि विदेशों में फंसे भारतीयों को स्वदेश लाने के लिए सरकार विशेष उड़ानों का परिचालन करेगी।

पुरी ने बताया कि विदेशों में फंसे भारतीयों को वापस लाने वाले 64 विमानों में से 9 देशों से आने वाले 11 विमान तमिलनाडु में उतरेंगे। यात्रियों की सूची संबंधित देशों में स्थित भारतीय दूतावास तैयार करेंगे। यात्रा का खर्च यात्रियों को स्वयं वहन करना होगा। (एजेंसियां)(file photo)



और भी पढ़ें :