अवेंजर्स एंड गेम : मूवी रिव्यू

जिस तरह से कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा का उत्तर जानने के लिए फिल्म बाहुबली 2 का इंतजार था उसी तरह से अवेंजर्स एंडगेम का इंतजार एक साल से किया जा रहा था ताकि यह जान सकें कि किस तरह से यह कहानी खत्म होती है। अपेक्षाएं आसमान छू रही थीं क्योंकि 'अवेंजर्स एज ऑफ अल्ट्रॉन' और 'अवेंजर्स इन्फिनिटी वॉर' जैसी फिल्मों ने बार को और ऊंचा उठा दिया था।

निर्देशक एंथनी रूसो तथा जो रूसो उम्मीदों पर खरे उतरे। पिछली फिल्मों के मुकाबले वे एक कदम और आगे निकल गए। जिस तरह से धोनी मैच को फिनिश करते हैं उसी तरह रूसो ने अवेंजर्स की कहानी को खत्म किया है।
फिल्म लगभग वहीं से शुरू होती है जहां पर इन्फिनिटी वॉर खत्म हुई थी। पिछली फिल्मों की कोई भूमिका बनाए ‍बिना एंड गेम को शुरू कर दिया है। यह फिल्म से जुड़े लोगों का आत्मविश्वास दर्शाता है कि उन्हें इस बात का पूरा यकीन है कि इस सीरिज के फैंस ने पिछली सारी फिल्में देखी हैं।

शुरुआत थोड़ी धीमी है। सारे अवेंजर्स बिखरे हुए हैं। कोई बेगुनाहों को मार रहा है तो कोई स्पेस में टंगा हुआ है। एक सुपरहीरो बूढ़ा लगने लगा है तो एक की तोंद निकल आई है। सबकी अपनी-अपनी कहानी है। जल्दी ही सब साथ होते हैं और इसके बाद फिल्म ऐसी रफ्तार पकड़ती है कि पलक झपकाने में भी डर लगता है कि कहीं कुछ छूट न जाए।


इस बार कहानी पर बहुत ज्यादा फोकस किया गया है। एंड गेम की कहानी बहुत ही शानदार है। इसमें ड्रामा, कॉमेडी और एक्शन के साथ-साथ भरपूर इमोशन भी है। इमोशन तो इतने हैं कि कुछ लोगों की आंखों से आंसू निकल पड़ेंगे।

कहानी के बारे में ज्यादा बात न करते हुए इतना जरूर कहा जा सकता है कि इसमें कन्फ्यूज होने का अंदेशा था, लेकिन लेखक और निर्देशक की दाद देनी पड़ेगी कि उन्होंने अपना प्रस्तुतिकरण इतना सफाई के साथ रखा है कि दर्शकों को सब कुछ आसानी से समझ में आ जाता है। कहानी में कई ट्विस्ट और टर्न्स हैं और दर्शकों को अलर्ट रहना पड़ता है।



स्क्रीन राइटर्स क्रिस्टोफर मार्कस और स्टीफन मैकफीली ने उन सवालों के भी जवाब इस फिल्म में दिए हैं जो इन्फिनिटी वॉर ने दर्शकों के सामने छोड़े थे। इमोशन और कॉमेडी का संतुलन भी उन्होंने बनाए रखा है। थॉर और हल्क की कॉमेडी खूब हंसाती है। आयरन मैन का अपने पिता से मिलने वाला सीन इमोशनल कर जाता है। इस तरह के दृश्यों की भरमार हैं जो आपका भरपूर मनोरंजन करते हैं।

निर्देशक एंथनी रूसो तथा जो रूसो ने हर सीन को बेहतर बनाया है और साथ में दर्शकों को चौंकाया है। हर सीन में उन्होंने दर्शकों को कुछ देने की कोशिश की है ताकि एक ब्लॉकबस्टर फिल्म का फील आए और पैसा वसूल मनोरंजन हो। सीटियों और तालियों वाले कई सीन इस फिल्म में आपको मिलेंगे।

ढेर सारे सुपरहीरोज़ उन्होंने जमा किए हैं। कुछ तो चंद सेकंड के लिए आते हैं, लेकिन उनकी एंट्री बहुत ही धमाकेदार है। रूसो ब्रदर्स कहानी को कहने का तरीका जानते हैं। इस बार उन्हें कहानी भी शानदार मिली है तो उनका काम और निखर गया है।

एक और बात के लिए निर्देशक की तारीफ करना होगी कि उन्होंने कहानी के अनुसार ही स्टार्स को फुटेज दिए हैं न कि उनकी लोकप्रियता के आधार पर। तीन घंटे की यह फिल्म है, लेकिन लंबी नहीं लगती है।

फिल्म के स्पेशल इफेक्ट्स की जितनी तारीफ की जाए कम है। थ्री-डी वर्जन में देखते समय ये कमाल के लगते हैं। क्लाइमैक्स में होने वाली फाइट में ये इफेक्ट्स अपनी ऊंचाइयां छूते हैं। फिल्म की एडिटिंग और सिनेमाटोग्राफी शानदार हैं। तकनीकी रूप से फिल्म वर्ल्ड क्लास है।

रॉबर्ट डाउनी जूनियर सुपरहीरोज़ की भीड़ में अपने अभिनय के बूते पर छा जाते हैं। अपने अभिनय से वे कई बार दर्शको को भावुक करते हैं। क्रिस इवांस को भी अच्छा फुटेज मिला है। क्रिस हेम्सवर्थ और मार्क रफेलो खूब हंसाते हैं। जेरेमी रेनर, जोश ब्रुलिन सहित सारे एक्टर्स ने अपना-अपना काम बेहतरीन तरीके से किया है।

ब्लॉकबस्टर फिल्म का मजा लेना है तो तुरंत अवेंजर्स एंडगेम का टिकट बुक कीजिए।

निर्माता : केविन फीज
निर्देशक : एंथनी रूसो, जो रूसो
कलाकार : रॉबर्ट डाउनी जू., क्रिस हेम्सवर्थ, मार्क रफेलो, क्रिस इवांस, जोश ब्रुलिन
सेंसर सर्टिफिकेट : यूए * 3 घंटे 1 मिनट 7 सेकंड
रेटिंग : 4/5

 

और भी पढ़ें :