सनी देओल और अरमान कोहली जो फिल्म नहीं कर पाए उसे कर स्टार बन गए शाहरुख खान

जिस तरह से दाने-दाने पर लिखा होता है खाने वाले का नाम, उसी तरह फिल्म-फिल्म पर लिखा होता है करने वाले का नाम। ऐसे कई किस्से हैं जिनमें किसी सितारे ने फिल्म छोड़ दी और उसकी जगह दूसरे ने कर ली। जिसने छोड़ी वह पीछे रह गया और जिसने की वह सफलता की ऊंची छलांग लगा गया।

ऐसा ही एक किस्सा फिल्म 'दीवाना' से जुड़ा है। यह फिल्म 1992 में रिलीज हुई थी। निर्देशक थे राजकंवर। गुड्डू धनोआ और ललित कपूर ने इसे प्रोड्यूस किया था। फिल्म में ऋषि कपूर, दिव्या भारती और ने लीड भूमिका निभाई थी।

यह फिल्म इसलिए भी याद की जाती है कि यह शाहरुख खान की रिलीज होने वाली पहली फिल्म थी। यूं तो शाहरुख खान ने हेमा मालिनी की फिल्म 'दिल आशना है' सबसे पहले साइन की थी, लेकिन रिलीज होने में दीवाना ने बाजी मार ली थी।



दीवाना सबसे पहले माधुरी दीक्षित को ऑफर हुई थी जिनका उस दौर में बड़ा नाम था। माधुरी ने यह कह कर फिल्म करने से मना कर दिया कि वे बेहद व्यस्त हैं। उनकी ना का पूरा-पूरा फायदा दिव्या भारती को हुआ जो उस समय बिलकुल नई थी।

ऋषि कपूर को चुन लिया गया था और एक युवा हीरो की तलाश की जा रही थी। फिल्म निर्माता राजकुमार कोहली के बेटे अरमान कोहली को साइन किया गया।

फिल्म की शूटिंग का पहला शेड्यूल शुरू हो गया। अरमान कोहली कलाकार तो नए थे, लेकिन उनके तेवर सुपरस्टार वाले थे। क्रिएटिव डिफरेंस के नाम पर उन्होंने यह फिल्म छोड़ दी।

अचानक हीरो के फिल्म छोड़ने से सभी के हाथ-पैर फूल गए। ताबड़तोड़ से बात की गई क्योंकि फिल्म के निर्माता गुड्डू धनोआ के सनी से बहुत अच्छे संबंध है और उन्होंने सनी को लेकर कई फिल्में भी बनाई है।



फिल्म शुरू हो चुकी थी और सनी देओल उस समय बेहद व्यस्त कलाकार थे। न चाहते हुए भी सनी को इंकार करना पड़ा क्योंकि वे डेट्स दूसरे फिल्म निर्माताओं को दे चुके थे।

कहते हैं कि गुड्डू को मुसीबत में देख ने शाहरुख खान का नाम सुझाया जिन्हें भविष्य का सितारा माना जा रहा था। आनन-फानन में शाहरुख को साइन किया गया और दीवाना की शूटिंग आगे बढ़ी।

26 जून 1992 को फिल्म रिलीज हुई और बॉक्स ऑफिस ऑफिस पर धमाल मचा दिया। 1992 में सबसे ज्यादा बिज़नेस फिल्म 'बेटा' ने किया था और दूसरे नंबर पर दीवाना थी।

फिल्म का संगीत भी बड़ा हिट रहा। नदीम-श्रवण द्वारा संगीतबद्ध गाने गली-गली गूंजे। लगभग 80 लाख कैसेट्स बिके जो उस साल किसी भी फिल्म के लिए यह सबसे ज्यादा थे।

दीवाना का सबसे ज्यादा फायदा शाहरुख खान को हुआ। इस फिल्म की कामयाबी के बाद उन्होंने पीछे मुड़ कर नहीं देखा।



और भी पढ़ें :