टीवी शो 'मेरे साईं' में नजर आएंगे सतीश सालगरे, निभाएंगे यह किरदार

पुनः संशोधित बुधवार, 31 मार्च 2021 (17:32 IST)
सोनी टीवी के शो 'मेरे साईं' ने अपनी शुरुआत से ही दर्शकों के बीच एक खास जगह बना ली है। इस शो को बड़ी संख्या में दर्शक देखते हैं और इस शो की अच्छी खासी टीआरपी भी आती है। इस शो में हमेशा ऐसी कहानियां दिखाई जाती हैं, जो दर्शकों को अपनी-सी लगती हैं और उन्हें साईं की भक्ति से सराबोर कर देती है। अब इस शो में एक नए कलाकार जुड़ने जा रहे हैं। इस कलाकार का नाम है सतीश सालगरे। वह शो में कुलकर्णी सरकार का किरदार निभाने जा रहे हैं।
मेरे साईं’ में इस रोल को हां कहने के लिए किस बात ने प्रेरित किया?
मैं लंबे समय से साईं बाबा का परम भक्त रहा हूं। ऐसे में उनके जीवन और उनके कार्यों को समर्पित शो में रोल मिलना ही ‘हां’ कहने के लिए काफी था। यह एक खूबसूरत शो है, जो साईं बाबा के नेक कार्यों और उनकी सीख को बड़े सरल और दिल छू लेने वाले अंदाज में प्रस्तुत करता है। मैं सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन के साथ भी पहली बार काम कर रहा हूं, जिसे मैं कई साल से देखता आ रहा हूं। ऐसे में यह मेरे लिए सोने पे सुहागा जैसा है।

आप मेरे साईं में एक महत्वपूर्ण रोल निभाते नजर आएंगे। इस कहानी और अपने किरदार के बारे में कुछ बताइए?
मैं मेरे साईं में कुलकर्णी सरकार के रोल में नजर आऊंगा। वो गांव का मुखिया है और चमत्कारों या जादू में विश्वास नहीं करता। इसीलिए वो साईं बाबा से घृणा करने लगता है। इस कहानी में दिखाया गया है कि कैसे कुलकर्णी सरकार साईं बाबा के लिए मुसीबतें पैदा करता है और फिर आगे क्या होता है।
टेलीविजन स्क्रीन पर वापसी करके आप कितने उत्साहित हैं?
ये तो सभी जानते हैं कि पिछला साल हम सभी के लिए कैसा रहा। ऐसे में काम पर लौटकर मुझे बेहद खुशी हो रही है, वो भी मेरे साईं जैसे शो में वापसी करके, जिसे बड़ी संख्या में लोग देखते और पसंद करते हैं। सेट पर आना, शूटिंग के लिए तैयार होना और सभी सुरक्षा उपायों का ध्यान रखना बड़ा उत्साहजनक है।

मेरे साईं एक ऐसा शो है, जो अपनी हर कहानी में सबको सद्बुद्धि और सीख देता है। आपने अपने ट्रैक से सबसे बड़ी बात क्या सीखी?
साईं बाबा से सीखने के लिए तो बहुत कुछ है। मेरे विचार से हमें साईं बाबा से सबसे पहला सबक यह सीखना चाहिए कि ‘तू अपना कर्म करता जा, फल की चिंता मत कर’। अपना काम करें और इसे अच्छी तरह करें और इसके परिणाम या फल के बारे में फिक्र ना करें। यह कुछ ऐसा है, जो हम सभी को करना चाहिए।

क्या अपने किरदार के लिए आपको कोई खास तैयारियां करनी पड़ी?
कुलकर्णी सरकार बड़ा मुश्किल किरदार है, जिसमें बहुत तैयारियां करने की जरूरत थी। उस दौर की भाषा को पकड़ना भी थोड़ा मुश्किल था। इसके लिए मुझे थोड़ी ज्यादा मेहनत करनी पड़ी। लेकिन हमारे शो के डायरेक्टर का एक विजन है, जिससे किरदार पर काम करना और भाषा को सही ढंग से प्रस्तुत करना बहुत आसान हो जाता है। एक अच्छी टीम अपने प्लेयर को कड़ी मेहनत करने के लिए प्रेरित करती है।
अपने करियर की कुछ खास उपलब्धियों के बारे में बताना चाहेंगे?
मैं लंबे समय से मराठी और हिन्दी फिल्में कर रहा हूं। मैं थिएटर में भी सक्रिय रहा हूं। इसके अलावा, मैंने एक फिल्म का निर्देशन भी किया है। लेकिन मुझे लगता है कि अभी मुझे लंबा सफर तय करना है। मैं कहना चाहूंगा कि मैंने अब तक जो सबसे खास किरदार निभाया है, वो है मराठी टीवी सीरीज़ ‘होनार सुन मी या घरची’ में अनिल आप्टे का रोल।
आपके आने वाले प्रोजेक्ट्स कौन-कौन से हैं?
साईं बाबा का आशीर्वाद है कि मुझे काफी कुछ करने को मिल रहा है। मेरी तीन फिल्में आने वाली हैं, जिनमें से दो मराठी फिल्में हैं और एक हिन्दी।




और भी पढ़ें :