यूवी किरणों से बचाव के लिए सनस्क्रीन लगाना तो मालूम होगा, लेकिन क्या सनस्क्रीन टैबलेट लेने के बारे में सुना है?

What is Oral Sunscreen and its Benefits
धूप में हानिकारक यूवी किरणों से बचने के लिए ब्यूटी एक्सपर्ट्स त्वचा पर सनस्क्रीन लगाने की सलाह देते हैं। ये तो आप जानते ही होंगे कि सनस्क्रीन कुछ घंटों तक त्वचा को सूरज से निकलने वाली हानिकारक यूवी किरणों से बचाता है। लेकिन अब हम आपको बता रहे हैं ओरल सनस्क्रीन टैबलेट के बारे में, जिसका चलन इन दिनों जोर पकड़ रहा है।

आइए, जानते हैं कि ओरल सनस्क्रीन टैबलेट क्या है?

1 जिस तरह से सनस्क्रीन लोशन होता है, उसी तरह से ओरल सनस्क्रीन टैबलेट होती है, जो यूवी किरणों से त्वचा को काली पड़ने से बचाती हैं।

2 सनस्क्रीन लोशन को त्वचा पर लगाना होता है लेकिन ओरल सनस्क्रीन टैबलेट को खाना होता है।

3 ओरल सनस्क्रीन टैबलेट को रिसर्च और कुछ टेस्ट के बाद भारत में लॉच किया जा चुका है।

4 डर्मेटोलॉजिस्ट का अनुसार अधिकांश महिलाएं सनस्क्रीन को बार-बार नहीं लगाती है। साथ ही सभी खुले हिस्सों पर लगाना भूल जाती है जिस वजह से त्वचा को नुकसान होता है। इसलिए उन महिलाओं के लिए जो कुछ घंटों के अंतराल में बार-बार सनस्क्रीन लगाने की परेशानी से बचना चाहती हैं उनके लिए ओरल सनस्क्रीन टैबलेट एक बेहतर विकल्प होगा।


5 साथ ही सनस्क्रीन लोशन हर किसी को सूट नहीं करता, कई बार उससे त्वचा पर ऐलर्जी आदि की परेशानी भी होती है।

6 जिन महिलाओं को सनस्क्रीन लोशन लगाने पर चिपचिपाहट और गर्मी महसूस होती है, उनके लिए भी ओरल सनस्क्रीन टैबलेट बेहतर विकल्प हो सकता है।

7 ओरल सनस्क्रीन टैबलेट को किसी भी वक्त बाहर जाने से पहले लेने पर अगर पहले से मेकअप किया हुआ
हो, तो वो भी खराब नहीं होगा।

8 ओरल सनस्क्रीन टैबलेट्स में अनार, विटामिन सी, विटामिन ई, कैरोटीनोइड, जैसी चीजें होती हैं। ये सभी मिल कर धूप से बचाव तो करते ही हैं साथ ही डैमेज हो चुकी त्वचा को भी सही करने में मदद करते हैं।

नोट : वैसे तो इसके कोई साइड इफेक्ट नहीं है, लेकिन सभी के शरीर को सभी उत्पाद सूट करे यह जरूरी नहीं है। बेहतर होगा कि एक बार अपने डर्मेटोलॉजिस्ट से परामर्श करे उसके बाद ही इसका इस्तेमाल करें।





और भी पढ़ें :