अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट को सौंपा 1 क्विंटल सोना-चांदी

पुनः संशोधित शनिवार, 8 अगस्त 2020 (15:48 IST)
अयोध्या। रामनगरी के अध्यक्ष ने अयोध्या में के लिए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को एक क्विंटल सोना-चांदी सौंपा है।
महंत नृत्यगोपाल दास ने राम मंदिर ट्रस्ट के महासचिव चंपतराय को सोना-चांदी सौंपा है। दूसरी ओर, अब तक ट्रस्ट के खाते में कुल 42 करोड़ रुपए जमा हो चुके हैं, जिसमें से 12 करोड़ रुपए पहले से रामलला के खाते में थे। ट्रस्ट बनने के बाद करीब 30 करोड़ का दान आ चुका है।

मोरारी बापू ने 11 करोड़ की धनराशि और महावीर पटना ट्रस्ट ने दो करोड़ रुपए दिए हैं। मुंबई से एक करोड़ का दान मिला है। पर्ची पर शिवसेना लिखा था।

राम मंदिर के लिए हर घर से 11 रुपए : भूमि पूजन के बाद विश्व हिन्दू परिषद (VHP) ने एक बड़े कार्यक्रम की घोषणा की है। विहिप 4 लाख गांवों में भगवान राम की प्रतिमा लगाएगा। एक ही मॉडल पर गांवों में राम मंदिर' बनाया जाएगा। विहिप ने 10 करोड़ लोगों तक पहुंचने की योजना बनाई है।

मंदिर निर्माण के लिए हर घर से 11-11 रुपए का चंदा एकत्रित किया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक इस अभियान को लेकर विहिप की दिसंबर में बैठक होगी। फिलहाल अलग-अलग शहरों व गांवों में भूमि पूजन के प्रसाद वितरण का कार्यक्रम चल रहा है।

दलित कार्यकर्ता ने रखी थी पहली ईंट : 9 नवंबर, 1989 को जब राम मंदिर का शिलान्यास हो रहा था तब पहली ईंट बिहार के दलित कार्यकर्ता कामेश्वर चौपाल के हाथों रखवाई गई थी। तब इसके माध्यम से संदेश दिया गया था कि राम मंदिर आंदोलन के पीछे पूरा हिन्दू समाज खड़ा है।



और भी पढ़ें :