सोमवार, 22 अप्रैल 2024
  • Webdunia Deals
  1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. उत्तर प्रदेश
  4. Violence erupts in Kanpur between President, Prime Ministers visit
Written By हिमा अग्रवाल
Last Updated : शुक्रवार, 3 जून 2022 (23:56 IST)

सद्भावना चौक पर बिगड़ा माहौल, राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री की मौजूदगी में कानपुर में भड़की हिंसा

सद्भावना चौक पर बिगड़ा माहौल, राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री की मौजूदगी में कानपुर में भड़की हिंसा - Violence erupts in Kanpur between President, Prime Ministers visit
पैंगंबर साहब पर की गई एक टिप्पणी के बाद कानपुर में सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ गया। शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद सद्भावना चौक पर आक्रोशित मुस्लिम समाज एकत्रित हुआ और पैगम्बर साहब पर की गई टिप्पणी करने वाली महिला नेत्री के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहा था। अचानक से भीड़ के बीच से पथराव शुरू हो गया। इसी बीच भीड़ में शामिल किसी शरारती तत्व ने तेज आवाज वाला पटाखा चला दिया, जिससे क्षेत्र में तनाव और बढ़ गया।
 
पुलिस-प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर स्थिति नियत्रंण में कर ली है। वहीं कानपुर में हुए बवाल के पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दोषियों पर कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए हैं। योगी ने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। जानकारी के मुताबिक पथराव की घटना में आधा दर्जन से ज्यादा लोग घायल हुए हैं, जबकि डेढ़ दर्जन के लगभग उपद्रवियों को हिरासत में लिया गया है। 
 
नूपुर शर्मा पर टिप्पणी का आरोप : पैगंबर साहब पर अभद्र टिप्पणी करने का आरोप भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा पर लगा है। जिससे मुस्लिम समाज में बेहद रोष पनप गया और उसने शुक्रवार को विरोध में अपनी दुकानें बंद रखीं।

जुमे की नमाज के बाद मुस्लिम समाज के लोग यतीम खाना स्थित सद्भावना चौक के निकट जमा हुए और अपनी नाराजगी जताते हुए भाजपा प्रवक्ता पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे। बातचीत चल ही रही थी उसी बीच भीड़ के कुछ लोग अपने गुस्से पर काबू नही रख सके और पत्थरबाजी करने लगे।
 
जमकट बवाल कटा : इसी बीच कुछ शरारती तत्वों ने मौका पाकर तेज धमाके का पटाखा (बम) छोड़ दिया, जिससे भगदड़ मच गई। हालांकि पुलिस पथराव की पुष्टि कर रही है। आनन-फानन में पुलिस की गाड़ियां मौके पर पहुंचीं और स्थिति को नियत्रंण में करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ते हुए हल्का बल भी प्रयोग किया।
 
मिली जानकारी के मुताबिक एक राष्ट्रीय टीवी चैनल पर बहस के दौरान भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद साहब के खिलाफ टिप्पणी की थी। मुस्लिम संगठनों ने भी नुपूर शर्मा के इस बयान की निंदा की है और उनके खिलाफ एक्शन की मांग की है।
मौके पर पहुंचे अधिकारी : कानपुर में लॉ एंड आर्डर की व्यवस्था बिगड़ते हुए देकर उच्चाधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। कानपुर डीएम के मुताबिक स्थिति काफी हद तक नियंत्रित कर ली गई है। पुलिस फोर्स तैनात किया गया है, अन्य जगहों से भी फोर्स आ रही है।

जिन लोगों ने माहौल खराब करने की साजिश रची है उनकी तलाश जारी है। वहीं कानपुर के ज्वाइंट कमिश्नर आनंद प्रकाश के मुताबिक पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है, सभी लोगों को उनके घरों में वापस भेज दिया है, घटना कैसे हुई, कौन लोग घटना को अंजाम देने में शामिल थे, इसके लिए जांच की जा रही है। फिलहाल स्थिति कंट्रोल में है।
 
गली-गली में गश्त : पुलिस गली-गली जाकर गश्त कर रही है। हालांकि इस बात को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं कि क्या कानपुर में सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने की साजिश पहले से ही रची जा रही थी? कानपुर बीच शहर में बड़ी तादाद में पत्थर कैसे आए? क्या पहले से शहर के अमन को तहस-नहस करने की तैयारियां कर रखी थी?