ट्रंप समर्थक बोले, यह अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव अच्छी बनाम बुरी नीतियों के बारे में

Last Updated: शुक्रवार, 16 अक्टूबर 2020 (14:35 IST)
ग्रीनविले (अमेरिका)। अमेरिका में उत्तरी कैरोलाइना के ग्रीनविले शहर में राष्ट्रपति के का मानना है कि 2020 का राष्ट्रपति चुनाव अच्छी और बुरी नीतियों के बीच चुनाव का मौका देता है। ट्रंप के हजारों समर्थक अपने नेता को देखने और सुनने के लिए गुरुवार को उत्तरी कैरोलाइना में पिट-ग्रीनविले हवाई अड्डे पर एकत्र हुए थे।
ALSO READ:
ट्रंप का विवादित बयान, मास्क पहनने वाले हमेशा ही कोरोना से संक्रमित रहते हैं
कोरोनावायरस के संक्रमण के बाद राज्य में ट्रंप की यह पहली चुनावी रैली थी। रैली में आए लोगों में से कई ने गर्भपात, धार्मिक स्वतंत्रता, बंदूक रखने का अधिकार, अवैध आव्रजन और स्वास्थ्य देखभाल जैसे कई मुद्दों पर अपना पक्ष रखा और कहा कि इन्हीं कुछ प्रमुख मुद्दों को लेकर वे राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप का समर्थन कर रहे हैं।

अंशकालिक तौर पर अकाउंटेंट की काम करने वाली ब्रांडी क्राउस ने बताया कि हमारे पास अच्छी नीतियां हैं और हमारे पास बुरी नीतियां भी हैं। इस वर्ष हमारे पास इसमें से चुनने का विकल्प है।उन्होंने एक बुरी नीति के रूप में गर्भपात पर डेमोक्रेटिक पार्टी के रुख का उदाहरण दिया।

राष्ट्रपति पद के डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन ने हाइड संशोधन को निरस्त करने का समर्थन किया है, जिसमें गर्भपात के मेडिकल बीमे पर प्रतिबंध लगाया गया है। सीनेटर कमला हैरिस गर्भपात के अधिकारों की पक्षधर हैं।

क्राउस ने कहा कि यह इंसान की इरादतन हत्या है। रिपब्लिकन पार्टी का इस पर रख इसके विपरीत है जो कि ईश्वर द्वारा दिया गया प्रत्येक मानव जीवन के मूल्य को समझता है। ट्रंप की चुनावी रैली में उनके साथ आई उनकी छोटी बहन 'बोर्ड द ट्रंप ट्रेन' नारा लिखी नीली टी-शर्ट पहनी हुई थी।

उसने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप दुनिया के किसी भी अन्य देश से अधिक अमेरिका से प्यार करते हैं। हमें पूरी दुनिया के विश्व नेता होने के नाते चिंतित होना चाहिए। उसने यह बताया कि ट्रंप लोकप्रिय क्यों हैं। क्राउस ने कहा कि मैं कभी भी एक भारतीय नेता, एक ब्रिटिश नेता या दक्षिण अमेरिकी देश के एक नेता से यह उम्मीद नहीं करूंगी कि वे अपने देश के समान अमेरिका की भलाई के लिए काम करेंगे। मैं बहुत आभारी हूं कि राष्ट्रपति ट्रंप समझते हैं कि अमेरिका को महान बनाने का काम उनका है। क्राउस ने कहा कि ट्रंप धार्मिक स्वतंत्रता की बात करते हैं और यह अमेरिका की धार्मिक स्वतंत्रता की नींव है।

रैली को संबोधित करते हुए ट्रंप ने धार्मिक स्वतंत्रता का मुद्दा उठाया। ट्रंप ने कहा कि हम धार्मिक स्वतंत्रता, बोलने की आजादी की रक्षा करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि उनका प्रशासन हथियार रखने का अधिकार बरकरार रखेगा। स्थानीय रियल एस्टेट एजेंट, वरिष्ठ नागरिक डेविड ने कहा कि बंदूक रखने के उनके अधिकार ट्रंप की सरकार में सुरक्षित रहेंगे।

डेविड ने कहा कि कल, मैं शिकार करने जा रहा हूँ। इसका कोई उपाय नहीं है कि मैं अपनी बंदूकें छोड़कर जाऊं। डेविड ने कहा कि हमें कोई मतलब नहीं है कि कौन जीतता है या कौन हारता है, हमें एक ऐसे राष्ट्रपति का समर्थन करना होगा जो हमारे बंदूक के अधिकारों की रक्षा कर रहा ह। उन्होंने बाइडेन के चुनाव जीतने पर करों में वृद्धि को लेकर भी चिंता व्यक्त की। डेविड ने कहा कि ट्रंप के नेतृत्व में अमेरिका सही दिशा में जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह चुनाव मूल रूप से अच्छे बनाम बुरे की लड़ाई है। (भाषा)



और भी पढ़ें :