AAP ने रामराज्य के आह्वान के साथ अयोध्या में निकाली तिरंगा रैली

Last Updated: बुधवार, 15 सितम्बर 2021 (00:05 IST)
अयोध्या। उत्तरप्रदेश के विधानसभा चुनाव में अपनी स्थिति मजबूत करने की कोशिश कर रही आम आदमी पार्टी (आप) ने मंगलवार को बड़े पैमाने पर 'तिरंगा यात्रा' और रामराज्य की स्थापना करने का आह्वान किया। आप ने रामराज्य की तुलना वास्तविक राष्ट्रवाद और सांप्रदायिक सदभावना से की।
ALSO READ:
Live Updates : यूपी विधानसभा चुनाव से पहले अलीगढ़ को सौगात, जाट वोटरों पर नजर

रैली का नेतृत्व आप सांसद संजय सिंह और दिल्ली में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने किया जिसमें करीब 10 हजार लोगों ने हिस्सा लिया। रैली में शामिल लगभग सभी के हाथों में तिरंगा था और वे 'इंकलाब जिंदाबाद' और 'वंदे मातरम्' के नारे लगा रहे थे। रैली में शामिल लोगों ने 18वीं सदी में बने नवाब शुजा-उद-दौला के मकबरे से लेकर गांधी पार्क के बीच रैली निकाली। करीब 2 किलोमीटर की दूरी तय करने में उन्हें 5 घंटे का समय लगा और इस दौरान रैली में शामिल समर्थक 'रामराज्य लाना है, हिन्दू-मुस्लिम को एक बनाना है' के नारे लगा रहे थे। सोमवार को अयोध्या पहुंचे सिंह और सिसोदिया ने रैली की शुरुआत राम जन्मभूमि मंदिर और हनुमान गढ़ी मंदिर में पूजा-अर्चना और कई साधु-संतों से मुलाकात के बाद शुरू की।


सिसोदिया ने कहा कि फर्जी राष्ट्रवादी उत्तरप्रदेश के युवाओं के ऊर्जावान 'वंदे मातरम्' नारे से बौखला गए हैं। युवाओं को पता चल गया है कि असली राष्ट्रवाद अच्छी शिक्षा, अच्छी स्वास्थ्य प्रणाली, रोजगार के अवसर और सुरक्षित समाज है, जहां अपराधियों का कोई भय नहीं हो। उन्होंने उत्तरप्रदेश में रामराज्य स्थापित करने की अपनी पार्टी की प्रतिबद्धता जताई। सिसोदिया ने कहा कि भगवान राम ने पूरा जीवन भाईचारा, जाति और वर्ग के भेद को भूलने का संदेश देने बिताया। उन्होंने सभी को गले लगाना सिखाया।(भाषा)



और भी पढ़ें :