भारतीय हॉकी का नया मंत्र : शुरू में गोल करो और फिर दबाव बनाओ

Last Updated: मंगलवार, 11 जून 2019 (22:17 IST)
भुवनेश्वर। ग्राहम रीड के रूप में नया कोच आने के बाद भारतीय पुरुष ने विरोधी टीम पर दबाव बनाने के लिए नई रणनीति तैयार कर दी है जितना जल्दी हो सके करना और फिर दबाव बनाना।

विश्व में नंबर पांच भारत ने फाइनल्स में कमजोर टीमों के खिलाफ मनमाफिक गोल किए लेकिन वे सर्वश्रेष्ठ टीमों के खिलाफ भी यह चलन जारी रखना चाहते हैं।

भारत के मुख्य कोच रीड ने कहा, ‘मैंने लड़कों से एक बात कही है कि हमें पहले पांच मिनट में गोल करने के दो, तीन मौके मिलेंगे और यह इस पर निर्भर करेगा कि आप किस टीम के खिलाफ खेलोगे। हमारा उद्देश्य इन मौकों का पूरा फायदा उठाना है।’

उन्होंने कहा, ‘हम हमेशा शुरू में मौके बनाने के प्रयास करेंगे और केवल यहीं नहीं बल्कि शीर्ष टीमों के खिलाफ भी ऐसा करके विरोधी टीम पर दबाव बनाएंगे।’

रीड ने कहा, ‘हम हर मैच में अधिक से अधिक गोल करना चाहते हैं लेकिन इस क्षेत्र में बेहतर बनने में समय लगेगा। हम स्ट्राइकर के साथ काम कर रहे हैं लेकिन मुझे खुशी है कि हम मौके बना रहे हैं और यह बेहद महत्वपूर्ण है।’

 

और भी पढ़ें :