0

वर्ष में एक बार खुलने वाले नागचंद्रेश्वर मंदिर के अब दर्शन हुए आसान

सोमवार,अगस्त 1, 2022
Nagchandreshwar Temple
0
1
Jagannath Puri Rath Yatra 2022 : ओड़ीसा के पुरी में भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा का आयोजन प्रतिवर्ष आषाढ़ माह की शुक्ल द्वितीया को होता है और इसका समापन एकादशी के दिन होता है। रथयात्रा जगन्नाथ मंदिर से निकलकर 3 किलोमीटर दूर गुंडीजा मंदिर पहुंचती है। ...
1
2
वर्ष 2022 में 15 जून, दिन बुधवार से आषाढ़ मास (Ashadh 2022) प्रारंभ हो गया है। आषाढ़ मास के अंतर्गत आने वाली देवशयनी एकादशी से 4 माह के लिए भगवान श्रीविष्णु योग निद्रा में चले जाएंगे
2
3
उज्जैन। मध्यप्रदेश के उज्जैन स्थित ज्योतिर्लिंग भगवान महाकालेश्वर के मंदिर में भस्मारती के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को अब प्रसाद के रूप में चाय-नाश्ता कराया जाएगा। नाश्ते में श्रद्धालुओं को चाय के साथ पोहा और खिचड़ी दी जाएगी। महाकाल मंदिर ...
3
4
गुड़ी पड़वा 2 अप्रैल को उज्जैन का गौरव दिवस मनाया जाएगा। नववर्ष प्रतिपदा पर उज्जैन का गौरव दिवस मनाकर प्रदेश के विभिन्न शहरों के गौरव दिवस मनाने की शुरुआत उज्जैन से होगी।
4
4
5
18 मार्च को होली का पर्व पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। लेकिन मथुरा के बरसाने और नंदगांव में होली की धूम करीब 10 दिन पहले से शुरू हो जाती है। यहां की लट्ठमार होली खेलने के लिए लोग देश-विदेश से पहुंचते हैं और रंगों की खुमारी में बरबस रंग ...
5
6
वृंदावन। रंगभरी एकादशी के बाद श्रीबांकेबिहारी धाम में परंपरागत रूप से होली उत्सव शुरू हो जाता है। चारों तरफ केसर टेसू के फूलों से केसर रंग की धूम नजर आती है और वातावरण सुगंधित हो जाता है। मंदिर में टेसू के रंगों के साथ-साथ चोवा, चंदन और गुलाल के साथ ...
6
7
भोपाल। महाशिवरात्रि के अवसर पर बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन में आज मंगलवार को 21 लाख दीपों के प्रज्वलन के साथ नया विश्व रिकॉर्ड बना। शाम 7 बजते ही महाकाल मंदिर सहित शिप्रा नदी के तट लाखों दीपों से एक साथ जगमगा उठे। इस खास पल के साक्षी मुख्यमंत्री ...
7
8
वाराणसी। उत्तरप्रदेश के वाराणसी स्थित काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह की दीवारों पर 37 किलोग्राम सोने से परत चढ़ाने का काम पूरा हो गया है। मंदिर प्रशासन के अनुसार अब गर्भगृह के चारों चौखटों से चांदी की परत हटा कर उन पर सोने की परत चढ़ाई जाएगी।
8
8
9
श्री महाकालेश्वर मंदिर में पूरे उत्साह से चल रही महाशिवरात्रि दीपोत्सव की तैयारियों में टीम महाकाल व हरिओम जल अर्पण की महिलाओं के संयुक्त तत्वावधान...
9
10
किसी भी परेशानी के कारण तीर्थ यात्रा पर ना जा सकने वाले श्रद्धालुओं की समस्या को दूर करने के लिए दो आईआईटी इंजीनियर प्रणव कपूर और सुयश तनेजा ने देवदर्शन की सुविधा घर पर ही उपलब्ध करवाई है। प्रणव और सुयश ने देवदर्शन नामक ऐप बनाया, जिस पर भारत के 5000 ...
10
11
Asaram bapu ki bhavishyavani: 1941 में पाकिस्तान के सिंध इलाके के बेरानी गांव में पैदा हुए आसाराम बापू का असली नाम असुमल हरपलानी है। आसाराम का परिवार 1947 में भारत विभाजन के बाद भारत के अहमदाबाद शहर में आ बसा था। धीरे धीरे आसाराम बापू ने संत का चौला ...
11
12
हरिद्वार। मकर संक्रांति पर्व पर हरिद्वार में हर की पौड़ी के सभी गंगा घाटों को सील कर दिए जाने से इन घाटों पर सन्नाटा पसरता रहा। पिछले सालों तक देश के कोने-कोने से आए श्रद्धालु हर की पैड़ी पर गंगा में डुबकी लगाकर पुण्य अर्जित करते थे। लेकिन बढ़ते ...
12
13
मथुरा। बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए मथुरा जनपद में विश्वविख्यात ठाकुर श्री बांकेबिहारी मंदिर में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से दर्शन की व्यवस्था की गई है। अर्चना सिंह (मंदिर प्रशासक, सिविल जज जूनियर डिवीजन)ने गुरुवार को आदेश जारी करते हुए नई व्यवस्था ...
13
14
शिर्डी (महाराष्ट्र)। महाराष्ट्र में अहमदनगर जिले के शिर्डी के साईंबाबा मंदिर में रोजाना ऑनलाइन पास रखने वाले कम से कम 15,000 श्रद्धालुओं को प्रवेश करने की अनुमति होगी। जिले के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी।
14
15
देहरादून। उत्तराखंड सरकार चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण प्रक्रिया को सरल बनाने पर विचार कर रही है ताकि यात्री ई-पास के लिए स्मार्ट सिटी और देवस्थानम बोर्ड के पोर्टल पर दोहरा पंजीकरण कराने की औपचारिकता से बच सकें।
15
16
इंदौर। शहर के खजराना गणेश मंदिर के प्रति बड़े-बड़े लोगों की आस्था है। क्रिकेटर, अभिनेता, नेता आदि यहां हाजिरी लगाकर अपनी मनोकामना पूरी करने के लिए प्रार्थना कर चुके हैं। इस मंदिर की एक और खास बात है। साल में 2 बार भगवान गणेश 2 किलो से ज्यादा वजन के ...
16
17
कुमाऊं के पूर्वोत्तर भू-भाग महाकाली नदी के दोनों ओर, कुमाऊं और पश्चिमी नेपाल में, मनाया जाने वाला महत्वपूर्ण लोक उत्सव है सातों-आठों। आजकल सातों-आठों पर्व की धूम है।
17
18
बाबा अमरनाथ की यात्रा का आयोजन प्रतिवर्ष अषाढ़ी पूर्णिमा से प्रारंभ होती है और श्रावण पूर्णिमा पर इसका समापन होता है। ऐसी मान्यता है कि भगवान शिव इस गुफा में पहले पहल श्रावण मास की पूर्णिमा को आए थे इसलिए उस दिन को अमरनाथ की यात्रा को विशेष महत्व ...
18
19
प्रयागराज। उत्तरप्रदेश के प्रयागराज में गंगा और यमुना का जलस्तर कुछ इस कदर बढ़ गया है कि गंगा का पानी संगम स्थित लेटे हुए हनुमान मंदिर में जरूर प्रवेश कर गया। गंगा की बाढ़ का पानी हनुमान मंदिर में दाखिल होते ही वहां के महंतों-पुजारियों और श्रद्धालुओं ...
19