विश्वास मत हासिल करने के लिए 22 सितंबर को पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र

Last Updated: सोमवार, 19 सितम्बर 2022 (16:35 IST)
हमें फॉलो करें
चंडीगढ़। आम आदमी पार्टी (आप) के भाजपा पर उसकी सरकार को गिराने की कोशिश करने का आरोप लगाए जाने के कुछ दिन बाद मुख्यमंत्री ने विश्वास मत हासिल करने के लिए को पंजाब विधानसभा का बुलाया है। राज्य में आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार ने पहले दावा किया था कि भाजपा ने उसके कुछ विधायकों को 25-25 करोड़ रुपए देने की पेशकश की थी।

जर्मनी में मौजूद मान ने सोमवार को एक वीडियो संदेश में कहा कि आपने यह सुना होगा कि कैसे उन्होंने भारी जनादेश के साथ निर्वाचित सरकार को सत्ता से बाहर करने के प्रयास के तहत हमारे विधायकों से संपर्क करने और उन्हें पैसे तथा अन्य प्रलोभन देने की कोशिश की।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले वित्तमंत्री हरपाल सिंह चीमा ने आरोप लगाया था कि भाजपा के कुछ नेताओं ने 'ऑपरेशन लोटस' के तहत आप के 7 से 10 विधायकों को पैसे तथा मंत्री पद देने के लिए संपर्क किया था। मान ने कहा कि हम 22 सितंबर को पंजाब विधानसभा का एक विशेष सत्र बुला रहे हैं जिसमें हम यह दिखाएंगे कि निर्वाचित विधायक राज्य को उज्ज्वल बनाने के सपने को साकार करने के लिए कितने प्रतिबद्ध हैं। हम उस सत्र में विश्वास प्रस्ताव पेश करेंगे।(भाषा)



और भी पढ़ें :