कश्मीर में बर्फबारी से हाहाकार, 2 किमी शव लेकर चलना पड़ा पैदल

snowfall_Kashmir
Author सुरेश एस डुग्गर| पुनः संशोधित शनिवार, 9 जनवरी 2021 (16:25 IST)
जम्मू। कश्मीर घाटी में ताजा बर्फबारी का असर न सिर्फ हवाई सेवाओं पर पड़ा है बल्कि जम्मू हाईवे को भी बंद करना पड़ा है। कई इलाकों में 4 इंच से लेकर एक फुट तक बर्फ की मोटी परतें जमने के कारण हाहाकार मचा हुआ है क्योंकि कश्मीरियों की दिक्कतें बढ़ गई हैं। प्रशासन हाथ खड़े कर चुका है।

दो दिन सुचारु रहने के बाद शनिवार को एक बार फिर कश्मीर घाटी का हवाई मार्ग से संपर्क कट गया। शुक्रवार रात से शुरू हुई बर्फबारी के बाद शनिवार सुबह श्रीनगर एयरपोर्ट पर विमानों की आवाजाही प्रभावित हो गई। सुबह से ही श्रीनगर से एक भी विमान उड़ान नहीं भर पाया और किसी भी विमान की वहां लैंडिंग नहीं हो सकी।

तापमान शून्य से नीचे : शनिवार की सुबह का स्वागत कश्मीर घाटी में हल्की बर्फबारी और जम्मू संभाग में घने कोहरे के साथ हुआ। ठंड ने एक बार फिर विकराल रूप धारण कर लिया। नतीजतन एक बार फिर पूरे कश्मीर में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे गिर गया है। रात को बनिहाल, बटोत, कटड़ा, श्रीनगर, काजीगुंड में भी बारिश हुई। जम्मू- श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग केवल फंसे वाहनों के लिए खुला है।
snowfall_Kashmir
घाटी में भीषण बर्फबारी का सिलसिला जारी है। इससे लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। रिहायशी इलाकों में लोग प्रशासन से गुहार लगा रहे हैं कि सड़कों पर जमा हुई बर्फ को हटाने के काम में तेजी लाई जाए, जिससे उनकी दिक्कतों में कमी हो।

शव लेकर चलना पड़ा 2 किमी पैदल : लोगों का कहना है कि प्रशासन द्वारा केवल मुख्य सड़कों को साफ किया कराया जा रहा है। गलियों में बर्फ जमा होने के कारण गाड़ियां नहीं निकल पा रही हैं। गुलशन कालोनी अलूचीबाग के एक निवासी ने बताया कि एक घर में मौत हुई थी और उन्हें शव को लेकर करीब दो किमी पैदल चलना पड़ा, क्योंकि बर्फ जमा होने के कारण एंबुलेंस अंदर नहीं जा सकी थी।

रविवार से बुधवार तक श्रीनगर में विमान सेवा पूरी तरह से बंद रही थी जबकि सड़कों पर भी बर्फबारी व भूस्खलन होने से गाड़ियों की आवाजाही बंद थी। गुरुवार और शुक्रवार को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग और हवाई सेवा बहाल हुई थी, लेकिन शनिवार को एक बार फिर मौसम के बदले मिजाज ने इस पर ब्रेक लगवा दी। दो दिन विमान सेवा बहाल होने पर श्रीनगर एयरपोर्ट पर करीब 11 हजार यात्रियों की आवाजाही हुई थी।
snowfall_Kashmir
जम्मू में घना कोहरा :
श्रीनगर में शनिवार को न्यूनतम तापमान माइनस 4 डिग्री सेल्सियस, पहलगाम में माइनस 5.1 और गुलमर्ग माइनस 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जम्मू का अधिकतम तापमान 16.0, न्यूनतम तापमान 9.5 डिग्री सेल्सियस रहा।

बनिहाल का न्यूनतम तापमान 0.8, बटोत 2.4 डिग्री सेल्सियस कटड़ा का न्यूनतम तापमान 8.2, भद्रवाह का न्यूनतम तापमान 1.0 डिग्री सेल्सियस रहा। लद्दाख के लेह शहर में रात का न्यूनतम तापमान शून्य से 15.3, कारगिल का शून्य से नीचे 15.2 और द्रास का शून्य से नीचे 20.2 डिग्री दर्ज किया गया।

जम्मू में सुबह कोहरा इतना ज्यादा था कि सड़कों पर तेज रफ्तार दौड़ने वाली गाडियां भी रैंगने को विवश थीं। गाडियों को दोपहर तक हेडलाइटें ऑन करके चलते देखा गया।



और भी पढ़ें :