पूर्व राज्यपाल लालजी टंडन की पौत्रवधू प्रताड़ना की शिकार, PM मोदी से लगाई गुहार

अवनीश कुमार| Last Updated: रविवार, 2 जनवरी 2022 (19:16 IST)
हमें फॉलो करें
लखनऊ। में इस समय सोशल मीडिया पर एक ऐसा हो रहा है, जिसमें एक महिला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ से न्याय की गुहार लगाती हुई नजर आ रही है।जिसे देखने के बाद सोशल मीडिया पर आम लोग भारतीय जनता पार्टी पर सवाल खड़े कर रहे हैं और इसके पीछे की मुख्य वजह कोई और नहीं बल्कि योगी सरकार के कद्दावर मंत्री हैं।जिनके ऊपर आरोप लग रहा है और आरोप भी कोई और नहीं बल्कि उनकी बहू दिशा टंडन दहेज उत्पीड़न के साथ-साथ प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए योगी और मोदी से न्याय की गुहार लगा रही हैं।
यह वीडियो सोशल मीडिया पर बहुत तेजी के साथ वायरल हो रहा है।जिसको लेकर सोशल मीडिया पर लोग अब आशुतोष टंडन के साथ-साथ योगी सरकार पर सवाल खड़े कर रहे हैं।

मुझे कर रहे हैं प्रताड़ित : सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में दिख रही महिला अपना नाम दिशा टंडन बता रही है और उसने वीडियो में पुष्टि करते हुए कहा है कि वह मध्य प्रदेश के लालजी टंडन की पौत्रवधू है और कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन की बहू है।उसको दहेज के लिए कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन के द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा है।
जिसकी शिकायत मेरे द्वारा की गई, लेकिन उनके पद पर होने के कारण मेरी सुनवाई कहीं नहीं हो रही है। मैं मोदी जी और योगी जी से विनम्र निवेदन करती हूं कि मुझे न्याय दिलाया जाए और इन सभी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।

वहीं इस वीडियो को देखने के बाद उत्तर प्रदेश में सोशल मीडिया पर आम लोग आशुतोष टंडन पर कार्रवाई करने की मांग तेजी के साथ करते हुए नजर आ रहे हैं।

आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो की पुष्टि 'वेबदुनिया' नहीं करता है।

क्या बोले नेता : इस वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद बीजेपी के वरिष्ठ नेता जवाब देने से बचते नजर आ रहे हैं और वीडियो की जांच करवाने की बात तक कह रहे हैं लेकिन खुलकर कोई भी सामने आने को तैयार नहीं है।

लेकिन सुबह से वायरल हो रहा है यह वीडियो विपक्ष के लिए विधानसभा चुनाव 2022 का मजबूत हथियार साबित होता हुआ नजर आ रहा है। विपक्ष अब बीजेपी पर जमकर हमलावर होने की तैयारी में जुट गया है और विपक्ष के कई नेता सोशल मीडिया पर योगी सरकार से कैबिनेट मंत्री के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं।



और भी पढ़ें :