महाराष्ट्र में वनाग्नि से 3 मजदूरों की मौत, मुख्यमंत्री ने की आर्थिक सहायता की घोषणा

Last Updated: शुक्रवार, 9 अप्रैल 2021 (17:29 IST)
सांकेतिक फोटो
गोंदिया। के गोंदिया जिले के नवेगांव-नागझिरा (एनएनटीआर) में लगी आग को बुझाने के दौरान 3 मजदूरों की हो गई, जबकि 2 अन्य गंभीर रूप से झुलस गए। वन विभाग के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

नवेगांव-नागझिरा बाघ अभयारण्य के वन संरक्षक एवं फील्ड निदेशक एम रामानुजम ने एक बयान जारी कर बताया कि अज्ञात लोगों ने गुरुवार को दिन में करीब साढ़े ग्यारह बजे अभयारण्य के नागझिरा और पीटेझारी इलाके के कुछ स्थानों में आग लगा दी।

उन्होंने बताया कि अधिकारियों और कामगारों सहित वन विभाग के 50 से 60 कर्मचारी आग बुझाने के काम में लगे और इस पर शाम पांच बजे तक काफी हद तक काबू पा लिया गया था। बयान में कहा गया कि तेज हवा के कारण आग दोबारा भड़क गई, जिसमें घिरने से तीन मजदूरों की मौत हो गई और दो झुलस गए।

इसमें कहा गया है कि मृतकों की शिनाख्त राकेश मडावी (40), रेकचंद राणे (45) और सचिन श्रीरंगे (27) के तौर पर हुई है। राजानुजम ने बताया कि घायलों को उपचार के लिए नागपुर के अस्पताल भेजा गया है।

इस बीच प्रदेश के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के कार्यालय से जारी बयान के अनुसार, मुख्यमंत्री ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। बयान में यह भी कहा गया है कि अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच की जा रही है।(भाषा)



और भी पढ़ें :