दिल्ली में फिर अग्निकांड, बवाना में एक फैक्टरी और वनक्षे‍त्र में लगी आग

पुनः संशोधित गुरुवार, 19 मई 2022 (17:34 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। in : बाहरी दिल्ली के में स्थित एक 'सैलो टेप' बनाने वाली फैक्टरी में गुरुवार को आग लग गई। अधिकारियों ने बताया कि फैक्टरी के पास दिल्ली अग्निशमन विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) भी नहीं था।
मीडिया खबरों के मुताबिक में 1 व्यक्ति की मौत की खबर हैं।

6 लोग आग में झुलस गए हैं।

दिल्ली अग्निशमन विभाग के निदेशक अतुल गर्ग ने कहा कि 'बवाना औद्योगिक क्षेत्र में स्थित फैक्टरी में आग लगने की सूचना फोन पर 11 बजकर 45 मिनट पर मिली। मौके पर दमकल की 17 गाड़ियों को भेजा गया। दिल्ली पुलिस के उपायुक्त (बाहरी उत्तर) बृजेंद्र कुमार यादव ने बताया कि आग फैक्ट्री की तीसरी मंजिल पर लगी थी।

उपायुक्त ने कहा कि 'फैक्ट्री में सैलो टेप बनाने का काम किया जाता है जिसमें थिनर का भी इस्तेमाल किया जाता है। उन्होंने बताया कि दोपहर ढ़ाई बजे तक आग पर पूरी तरह से काबू पा लिया गया था। हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ।' फैक्ट्री के मालिक की पहचान पीतमपुरा के महाराणा प्रताप एन्क्लेव निवासी संतोष के तौर पर हुई है।

उन्होंने बताया कि फैक्ट्री मालिक के खिलाफ धारा 285 (आग या ज्वलनशील पदार्थ के संबंध में लापरवाहीपूर्ण व्यवहार) और 336 (दूसरों के जीवन या व्यक्तिगत सुरक्षा को खतरे में डालने वाला अधिनियम) के तहत मामला दर्ज किया गया है। दमकल अधिकारियों ने बताया कि आग लगने का कारण शॉर्ट-सर्किट माना जा रहा है।

इसके अलावा पूर्वी दिल्ली के मुस्तफाबाद इलाके में एक और फैक्टरी में आग लगने की सूचना मिली, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई और 6 घायल हो गए। बाहरी दिल्ली के मुंडका में एक फैक्टरी में भीषण आग लगने के कुछ दिनों बाद यह घटना हुई। मुंडका में कम से कम 27 लोगों की मौत हो गई और 16 घायल हो गए थे।
उत्तरी वनक्षेत्र में लगी आग : उत्तरी दिल्ली में मजनू का टीला इलाके के पास वन क्षेत्र में बृहस्पतिवार को आग लग गई। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दमकल विभाग को दोपहर दो बजकर 42 मिनट पर घटना की जानकारी मिली थी। अधिकारियों ने बताया कि मौके पर दमकल की तीन गाड़ियां आग बुझाने का काम कर रही हैं।



और भी पढ़ें :