बिजनौर के हिस्ट्रीशीटर की हत्या, कार में मिला शव

हिमा अग्रवाल| Last Updated: रविवार, 1 अगस्त 2021 (19:33 IST)
मेरठ। के हिस्ट्रीशीटर मुकीत अहमद की मेरठ जानी गंगनहर पर गोली मारकर हत्या कर दी गई। हिस्ट्रीशीटर के सिर में गोली लगी लाश कार में पड़ी हुई मिली है। घटनास्थल का मुआयना करने के बाद पुलिस का मानना है कि कार में बैठे किसी साथी ने ही सिर में गोली मारकर उसकी हत्या की है। फिलहाल पुलिस ने मुकीत के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और उसकी केस हिस्ट्री खंगाल रही है।
मुकीत अहमद बिजनौर के कोतवाली देहात के उमरी कला गांव का रहने वाला हिस्ट्रीशीटर था। मिली जानकारी के मुताबिक उसने अपराध की दुनिया में अटैची चोर बनकर कदम रखा था और वर्तमान में वह दिल्ली मौजपुर के विजय मोहल्ला में रहता था।

मुकीत शनिवार दिल्ली से अपनी गाड़ी लेकर बिजनौर के लिए रवाना हुआ था। मेरठ जानी गंगनहर की सिवालखास रोड पर कार के अंदर उसका शव मिला है। घटना को अंजाम देने वाले शख्स ने सिर में पीछे से गोली मारी। गाड़ी में 315 बोर का तमंचा भी मिला है।

कार में एक गोली लगे शख्स की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस छानबीन में आधार कार्ड व मोबाइल से उसकी पहचान मुकीत अहमद के रूप में हुई है। परिजन पुलिस से सूचना मिलते ही मेरठ मोर्चरी पहुंच गए और उसकी पहचान की मुकीत के रूप में की है।
ALSO READ:
UP में फिरोजाबाद का बदलेगा नाम, चंद्रनगर बनाने का प्रस्‍ताव हुआ पारित
मुकीत पर बिजनौर समेत कर्नाटक में 20 से अधिक मुकदमें दर्ज हैं। कई साल से मुकीत अहमद अपनी पत्नी के साथ दिल्ली के जाफराबाद में किराए पर रह रहा था। वह दिल्ली में टैक्सी चलाता था। भाई के मुताबिक वह गद्दी सिलने का काम करता था।
ने बिजनौर पुलिस से इसका क्राइम रिकॉर्ड मांगा है। इस हत्याकांड की जांच के लिए लिए मेरठ पुलिस ने 2 टीमें लगाई हैं। जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा। वह राजनीतिक महत्वाकांक्षा के चलते कथाकथित भारतीय मोदी आर्मी पार्टी से जुड़ा हुआ था। पुलिस ने अज्ञात में मुकदमा दर्ज करके छानबीन शुरू कर दी है।



और भी पढ़ें :