1. खबर-संसार
  2. समाचार
  3. प्रादेशिक
  4. bengaluru woman molested by ola cab driver
Written By
Last Updated: बुधवार, 6 जून 2018 (07:33 IST)

शर्मनाक, ओला चालक ने जबरन उतरवाए महिला के कपड़े, गैंगरेप की धमकी

बेंगलुरू। ओला कैब के एक चालक ने एक जून को हवाई अड्डा जाते समय एक महिला से छेड़छाड़ की और उसे कपड़े उतारने के लिए बाध्य किया, मोबाइल से उसकी तस्वीर खींची और दोस्तों को बुलाकर उससे सामूहिक बलात्कार करने की धमकी दी। 
 
पुलिस ने कहा कि बेंगलुरू पुलिस को ई-मेल के माध्यम से दी गई शिकायत के आधार पर चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है और मामला दर्ज कर लिया गया है। 
 
प्राथमिक सूचना रिपोर्ट के मुताबिक मेंगलुरू की रहने वाली महिला यहां आर्किटेक्ट का काम करती है और एक जून की रात को हवाई अड्डा जाने के लिए उसने कैब बुक किया था। रास्ते में चालक अरूण वी . कार को सुनसान जगह पर ले गया। 
 
पुलिस ने बताया कि फिर उसने सारे दरवाजे और खिड़कियां बंद कर दीं और महिला ने जब शोर मचाने का प्रयास किया तो उसने गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी। 
 
प्राथमिकी में कहा गया है कि चालक ने उसका गला भी घोंटने का प्रयास किया और चेतावनी दी कि अगर उसने उसके निर्देशों का पालन नहीं किया तो वह अपने सभी दोस्तों को बुलाकर उससे सामूहिक बलात्कार करेगा। 
 
महिला ने आरोप लगाए कि अरुण ने उससे छेड़छाड़ की और उसे कपड़े उतारने के लिए बाध्य किया और उसके मोबाइल फोन से तस्वीरें उतारीं और अपने फोन में इसे डाल लिया। 
 
उसने महिला को हवाई अड्डे पर उतारा और चेतावनी दी कि अगर उसने शिकायत दर्ज कराई तो वह सोशल मीडिया पर उसकी तस्वीरें वायरल कर देगा। 
 
अतिरिक्त पुलिस आयुक्त सीमांत कुमार सिंह ने कहा, 'हवाई अड्डे पहुंचने के बाद महिला ने मेल से हमारे उपायुक्त के पास शिकायत भेजी। मेल के आधार पर हमने तुरंत प्राथमिकी दर्ज की और चालक को गिरफ्तार कर उसकी कार जब्त कर ली।'
 
सिंह ने कहा कि उन्होंने ओला कैब को नोटिस जारी कर पूछा कि चालक का पुलिस सत्यापन क्यों नहीं कराया गया। 
 
ओला के प्रवक्ता ने बयान जारी कर कहा, 'ग्राहक को हुए दुर्भाग्यपूर्ण अनुभव के लिए हम खेद जताते हैं। इस तरह की घटनाओं को हम कतई बर्दाश्त नहीं करते और शिकायत मिलते ही चालक को हमारे प्लेटफॉर्म पर प्रतिबंधित कर दिया गया है।'
 
बयान में कहा गया है कि ग्राहकों की सुरक्षा हमारी शीर्ष प्राथमिकता है और जांच में हम पुलिस अधिकारियों का पूरा सहयोग कर रहे हैं। चालक के पास वैध पुलिस सत्यापन जांच मौजूद है जो इस बात की पुष्टि करता है कि उसके खिलाफ कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं है। (भाषा) 
ये भी पढ़ें
रामदेव की पतंजलि का योगी सरकार को झटका, यूपी से बाहर जाएगा फूड पार्क