0

आज इस नैवेद्य से प्रसन्न होंगे होंगे ये 2 देवता, पढ़ें आसान विधि

सोमवार,जनवरी 25, 2021
0
1
तिरंगा केक बनाने के लिए सबसे पहले मलाई में आधा कटोरी शकर व गुलाब जल मिलाकर इसे अच्‍छी तरह फेंटे। बाकी बची हुई शकर आम में मिलाकर उसे फेंटें।
1
2
चावल को साफ करके आधा-एक घंटे के लिए पानी में भिगो कर रख दें। एक चौड़े मुंह वाले बर्तन में पानी उबालें और नमक डालकर चावल पका लें।
2
3
एक समतल जगह पर एक ब्रेड रखें, उस पर हरी चटनी लगाएं, उस पर दूसरी ब्रेड रखकर आलू का मिश्रण फैलाएं, उस पर तीसरी ब्रेड रखकर टमाटर सॉस लगाकर चौथी ब्रेड
3
4
सबसे पहले मलाई में आधा कटोरी शकर व गुलाब जल मिलाकर इसे अच्‍छी तरह फेंटे। बाकी बची हुई शकर आम में मिलाकर उसे फेंटें।
4
4
5
खोया और पनीर को कद्दूकस करके रख लें। अब इसमें शकर मिलाएं, तत्पश्चात कड़ाही में मध्यम आंच पर पकने दें। मिश्रण गाढ़ा होने पर गैस बंद कर दें।
5
6
ककड़ी को लंबे-लंबे स्लाइस में काटकर रख लें। अब गाजर और मूली को छिलकर लंबी स्लाइस में काट लें। इसके बाद एक बड़ी-सी प्लेट में पहले गाजर
6
7
करीब तीन घंटे तक अलग-अलग दाल और चावल को भिगो दें। मटर, हरी मिर्च और अदरक को महीन पीस लें। मटर को तेल में थोड़ा सेंक कर उसमें नमक मिला दें
7
8
सबसे पहले अदरक को साफ कर लें, अब धोकर, छील कर मिक्सी में बारीक पीस लें।
8
8
9
पोहे धोने पर सारा पानी निथार दें और थोड़ी देर पोहे को गलने के लिए रख दें। अब उसमें हल्दी पाउडर, शकर और नमक डालें और अच्छी तरह मिला लें। फिर धीमी आंच पर मोटे तले वाली कड़ाही
9
10
भोजन तो सभी बनाते हैं, लेकिन क्या आपको पता है इसे और अधिक मजेदार कैसे बनाया जा सकता हैं
10
11

Methi Recipes : चटपटे मैथी के थेपले

सोमवार,जनवरी 18, 2021
सबसे पहले बेसन को छान लें, अब उसमें बारीक कटी मैथी, नमक, मिर्च, 1 बड़ा चम्मच तेल मिला लें व खूब अच्छे से गूंथ लें। आधा घंटा रखा रहने दें। छोटी
11
12
चाहे विनायक, अंगारकी, संकष्टी या कोई सी भी चतुर्थी हो, श्री गणेश को मोदक और लड्‍डू का भोग अवश्‍य लगाना चाहिए। इससे प्रसन्न होकर श्री गणेश अपने भक्तों की हर मनोकामना पूर्ण करते हैं।
12
13
स्वादिष्ट खिचड़ी आपको सेहत के बेहतरीन फायदे भी देती है। जानिए इस पौष्ट‍िक आहार खिचड़ी के 5 फायदे और 3 व्यंजन विधियां...
13
14
पूरे भारत में मकर संक्रांति का त्योहार किसी न किसी रूप में मनाया जाता है। इस दिन देशभर में तरह-तरह के व्यंजन बनते हैं।
14
15
चावल दो-तीन बार पानी बदल कर हाथ से मसलकर धो लें। एक कड़ाही में मूंग की दाल को धीमी आंच पर गुलाबी होने तक भून लें।
15
16
तिल-गुड़ की बर्फी का स्वाद सभी को बेहद पसंद होता है। यह लोहड़ी और मकर संक्रांति का खास व्यंजन है। आइए पढ़ें सरल विधि-
16
17
उड़द दाल को साफ करके एक घंटे के लिए भिगो दें। फिर एक पैन में तेल गरम करें और छौंक की सामग्री डालकर दाल भूनें। तत्पश्चात गाजर, मटर व मोठ डालकर पकाएं
17
18
सबसे पहले एक पैन में गन्ने का रस डाल कर गरम करें। चावल को अच्छी तरह धो लें
18
19
मीठा (सक्कराई) पोंगल बनाने से पहले चावल को धोकर कुछ देर के लिए भिगो कर रख दें। अब मूंग दाल को भी धो लें। तत्पश्चात एक कुकर में घी गरम करके उसमें दाल डालकर कुछ देर तक चलाएं।
19