0

RamNavmi 2020 : रामनवमी के शुभ दिन मानस की चौपाइयों को कैसे सिद्ध करें

बुधवार,अप्रैल 1, 2020
Ram Navami 2020
0
1
नवमी तिथि पर साधारणतया माता दुर्गा का पूजन, अर्चन, हवन किया जाता है। लेकिन इस‍ तिथि की अधिष्ठात्री देवी माता सिद्धिदात्री हैं।
1
2
तारक मंत्र 'श्री' से प्रारंभ होता है। 'श्री' को सीता अथवा शक्ति का प्रतीक माना गया है। राम शब्द 'रा' अर्थात् र-कार और 'म' मकार से मिल कर बना है। 'रा' अग्नि स्वरुप है। यह हमारे दुष्कर्मों का दाह करता है। 'म' जल तत्व का द्योतक है।
2
3
या देवी सर्वभू‍तेषु मां सिद्धिदात्री रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।। हे मां! सर्वत्र विराजमान और मां सिद्धिदात्री के रूप में प्रसिद्ध अम्बे, आपको मेरा बार-बार प्रणाम है। या मैं आपको बारंबार प्रणाम करता हूं। हे मां, मुझे अपनी ...
3
4
मां दुर्गा का नौंवा रूप हैं सिद्धिदात्री। नवरात्रि के आखिरी दिन यानी नवमी तिथि को देवी सिद्धिदात्री की पूजा की जाती हैं। पढ़ें आरती-
4
4
5
आपका जन्म किसी भी साल के अप्रैल महीने में हुआ है तो आप कलात्मक चीजों के कलेक्शन का शौक रखने वाले और एडवेंचर पसंद करने वाले होंगे।
5
6
नवरात्रि में आठवें दिन महागौरी शक्ति की पूजा की जाती है। नाम से प्रकट है कि इनका रूप पूर्णतः गौर वर्ण है। इनकी उपमा शंख, चंद्र और कुंद के फूल से दी गई है।
6
7
चैत्र नवरात्रि में महा अष्टमी के दिन महागौरी का पूजन किया जाता है। इस दिन अगर आप अपनी राशिनुसार आसन पर बैठकर मां की आराधना करेंगे तो मिलेगा मनचाहा फल। आइए जानें...
7
8
नवरात्रि में दुर्गा पूजा के दौरान अष्टमी पूजन का विशेष महत्व माना जाता है। इस दिन मां दुर्गा के महागौरी रूप का पूजन किया जाता है। सुंदर, अति गौर वर्ण होने के कारण इन्हें महागौरी कहा जाता है।
8
8
9
नवरात्रि में दुर्गा पूजा के दौरान अष्टमी के दिन मां दुर्गा के महागौरी रूप का पूजन किया जाता है। सुंदर, अति गौर वर्ण होने के कारण इन्हें महागौरी कहा जाता है। आइए पढ़ें मां महागौरी की आरती-
9
10
नवरात्रि की सप्तमी तिथि को माता का कालरात्रि रूप का पूजन किया जाता है। मंत्र इस प्रकार है-
10
11
चैत्र नवरात्रि नवमी को ही रामनवमी के रूप में मनाया जाता है। श्रीराम की पूजा-अर्चना के लिए आइए जानें क्या करें इस दिन... प्रामाणिक और पौराणिक पूजा विधि
11
12
इस वर्ष राम नवमी महापर्व 2 अप्रैल 2020 दिन गुरुवार को चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को मनाया जाएगा। भगवान श्री विष्णु जी ने धर्म की स्थापना और अधर्म के समूल नाश के लिए त्रेतायुग में धरती पर भ गवान श्रीराम के रूप में मनुष्य अवतार लिया था।
12
13
नवरात्रि के सातवे दिन यानी सप्तमी तिथि को माता कालरात्रि का पूजन किया जाता है। आइए पढ़ें माता कालरात्रि की आरती-
13
14
किसी को आपकी काफी परवाह है। किसी के इसी केयरिंग व्यवहार को देखते हुए आप खुशी महसूस करेंगे।
14
15
मां दुर्गा की यह सातवीं शक्ति कालरात्रि के तीन नेत्र हैं। ये तीनों ही नेत्र ब्रह्मांड के समान गोल हैं।
15
16
आज आपका दिन मंगलमयी रहे, यही शुभकामना है। 'वेबदुनिया' प्रस्तुत कर रही है खास आपके लिए नए सप्ताह के शुभ मुहूर्त (30 मार्च से 5 अप्रैल 2020 तक)
16
17
'ॐ रामचंद्राय नम:' क्लेश दूर करने के लिए प्रभावी मंत्र है। नवरात्रि में रामनवमी तक रामचरित मानस, वाल्मीकि रामायण, सुंदरकांड आदि के अनुष्ठान की परंपरा रही है। मंत्रों का जाप भी किया जाता है।
17
18
भगवान श्रीराम के तीन भाई थे। लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न, लेकिन क्या आप जानते हैं कि उनकी एक बहन भी थीं। दक्षिण रामायण में इस बात का उल्लेख मिलता है कि भगवान श्रीराम और उनके तीनों भाईयों की बहन का नाम शांता था।
18
19
राम के बारे में कुछ ऐसी बातें हैं जिनका विवरण श्रीरामचरितमानस या अन्य रामायण में नहीं है। इनका विस्तृत विवरण केवल वाल्मीकि कृत रामायण में है।
19