नेशनल हेराल्ड केस : ED ने सोनिया गांधी को पूछताछ के लिए कल फिर पेश होने को कहा

Sonia gandhi
पुनः संशोधित मंगलवार, 26 जुलाई 2022 (19:55 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। : के मामले में ईडी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से 6 घंटे से अधिक समय तक की।

ईडी ने सोनिया गांधी को पूछताछ के लिए बुधवार को फिर बुलाया है।


कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं एवं सांसदों ने ‘नेशनल हेराल्ड’ से जुड़े धनशोधन के मामले में सोनिया गांधी से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की पूछताछ के खिलाफ मंगलवार को प्रदर्शन किया। इसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया।

राहुल गांधी और कांग्रेस के कई अन्य सांसदों ने संसद भवन से मार्च निकाला तथा वे राष्ट्रपति भवन की तरफ बढ़ने का प्रयास कर रहे थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें विजय चौक पर रोक दिया। इसके बाद इन नेताओं ने वहां धरना दिया। कुछ देर बाद पुलिस ने राहुल गांधी और कई अन्य कांग्रेस नेताओं को हिरासत में ले लिया। हिरासत में लिए जाने से पहले राहुल ने आरोप लगाया, ‘‘मोदी जी राजा हैं और भारत में पुलिस राज है।’’
बाद में राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘तानाशाही देखिए, शांतिपूर्ण प्रदर्शन नहीं कर सकते, महंगाई और बेरोज़गारी पर चर्चा नहीं कर सकते। पुलिस और एजेंसियों का दुरूपयोग करके, हमें गिरफ़्तार करके भी, कभी चुप नहीं करा पाओगे। 'सत्य' ही इस तानाशाही का अंत करेगा।’’

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘देश के ‘राजा’ का हुक्म है - जो बेरोज़गारी, महंगाई, गलत जीएसटी, अग्निपथ पर सवाल पूछेगा - उसे कारागृह में डाल दो। भले ही मैं अभी हिरासत में हूं, भले ही देश में अब जनता की आवाज़ उठाना जुर्म हो, लेकिन वो हमारा हौंसला कभी नहीं तोड़ पाएंगे।’’
राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने आरोप लगाया कि पुलिस ने उनसे और कई अन्य कांग्रेस सांसदों के साथ धक्कामुक्की की और यह सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह द्वारा करवाया जा रहा है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने ट्वीट किया, ‘‘भाजपा की तानाशाही अब खुलकर सामने है। संसद में जरूरी मुद्दों पर चर्चा नहीं कर सकते और सड़क पर जनता की आवाज नहीं उठा सकते। पुलिस और एजेंसियां लगाकर तानाशाह सरकार विपक्ष को दबाना चाहती है। उन्होंने कहा कि यह सच की लड़ाई है, न झुकेंगे, न डरेंगे लड़ेंगे, जीतेंगे।

कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि पुलिस ने कांग्रेस सांसदों को विजय चौक पर रोक दिया। हमें राष्ट्रपति भवन जाने से रोक दिया गया। जबरन गिरफ्तार कर लिया गया। कांग्रेस का कहना है कि पार्टी मुख्यालय में प्रदर्शन कर रहे उसके कई नेताओं को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

पार्टी महासचिव अजय माकन ने कहा कि आज पूरे देश में कांग्रेस पार्टी सत्याग्रह कर रही है। हम लोगों ने यह तय किया था कि दिल्ली के अंदर राजघाट पर सत्याग्रह करेंगे और जब तक सोनिया गांधी को पूछताछ के बाद वापस नहीं जाने दिया जाएगा, तब तक हमारा सत्याग्रह जारी रहेगा।’’
माकन ने आरोप लगाया कि आज से लगभग 10 वर्ष पहले ईडी ने इस मामले को खत्म कर दिया था। अब इस मामले को एक बार फिर खोला गया है, केवल इसलिए कि सरकार, विपक्षी दल के ऊपर दबाव डाल सके, और हम जरूरी मुद्दों को न उठा सकें। उन्होंने कहा कि राजनीतिक द्वेष की भावना से जो कार्रवाई की जा रही है, उसके खिलाफ कांग्रेस के कार्यकर्ता देश भर में सत्याग्रह कर रहे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से ईडी ने मंगलवार को दूसरे दौर की पूछताछ की। ईडी ने इससे पहले ‘नेशनल हेराल्ड’ अखबार से जुड़े कथित धनशोधन मामले में गत गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष से दो घंटे तक पूछताछ की थी। कांग्रेस ने इसके विरोध में पूरे देश में प्रदर्शन किया था। पार्टी के कई नेताओं ने गिरफ्तारियां दी थीं।



और भी पढ़ें :