राकेश टिकैत बोले- सरकार बुलाती है तो किसान बातचीत के लिए तैयार, नहीं बदलेगी मांग

Last Updated: सोमवार, 12 अप्रैल 2021 (08:05 IST)
गाजियाबाद। बीकेयू के नेता ने कहा कि यदि आमंत्रित करती है तो नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे वार्ता के लिए हैं, वहीं से शुरू होगी जहां 22 जनवरी को खत्म हुई थी और मांगों में कोई बदलाव नहीं है।
ALSO READ:
हरियाणा में प्रदर्शनरत किसानों ने केएमपी एक्सप्रेसवे किया अवरुद्ध
उन्होंने कहा कि वार्ता बहाली के लिए सरकार को प्रदर्शनकारियों का प्रतिनिधित्व करने वाले संयुक्त किसान मोर्चा को वार्ता का निमंत्रण देना चाहिए। बीकेयू मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक की ओर से जारी बयान में टिकैत ने कहा कि सरकार के साथ वार्ता वहीं से बहाल होगी जहां 22 जनवरी को खत्म हुई थी। मांग भी वहीं हैं कि तीनों काले कानूनों को निरस्त किया जाए, न्यूनतम समर्थन मूल्य सुनिश्चित करने के लिए नया कानून बनाया जाए।

टिकैत का बयान कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज द्वारा केंद्रीय कृषि मंत्री से वार्ता बहाली के लिए की गई अपील के बाद आया है।



और भी पढ़ें :