बड़ी खबर, जेब पर होगा असर, 1 फरवरी से बढ़ सकता है रेल किराया

पुनः संशोधित मंगलवार, 10 दिसंबर 2019 (19:58 IST)
नई दिल्ली। नए साल में सरकार आपकी जेब को हलका करने की योजना बना रही है। मीडिया रिपोर्ट्‍स की मानें तो 1 फरवरी 2020 से सरकार रेल किराए में 10 से 15 फीसदी की बढ़ोतरी कर सकती है। कहा जा रहा है कि किराया बढ़ाने के लिए पीएमओ ने भी हरी झंडी दे दी है।
रिपोर्ट्स के मुताबिक 1 फरवरी 2020 से आपको रेल किराया ज्यादा देना होगा। कहा जा रहा है कि संसद के शीतकालीन सत्र के बाद इस संबंध में अधिकृत घोषणा की जा सकती है। रिपोर्ट्‍स की मानें तो सरकार यह फैसला रेलवे की बिगड़ती आर्थिक स्थिति के मद्देनजर लेने जा रही है। बताया जा रहा है कि इसके लिए पीएमओ ने हरी झंडी भी दे दी है।

जानकारी के मुताबिक रेलवे ने यात्री किराए में 8 से 15 फीसदी की वृद्धि का प्रस्ताव दिया है, लेकिन सड़क परिवहन से किराया प्रतिस्पर्धा के चलते विभाग को डर भी है। प्रस्ताव के मुताबिक सरकार क्रॉस सब्सिडी को खत्म करना चाहती है।

ऐसा भी कहा जा रहा है कि यात्री किराए में यह बढ़ोतरी 10 से 15 फीसदी की भी हो सकती है, जो कि 5 से 40 पैसे प्रति किलोमीटर के मान से हो सकती है। ऐसा हाई डिमांड रूट्‍स- देहली-मुंबई, देहली-चेन्नई, मुंबई-गोवा, मुंबई-अहमदाबाद आदि के लिए यह बढ़ोतरी ज्यादा हो सकती है, जबकि कम डिमांड वाले रूट्‍स पर यह वृद्धि कम हो सकती है।

उल्लेखनीय है कि 2014 में मोदी सरकार ने यात्री किराए में 14.5 फीसदी का इजाफा किया था, जबकि मालभाड़े में 6.5 फीसदी की बढ़ोतरी की गई थी।



और भी पढ़ें :