क्रूज ड्रग्स केस में बड़ा ट्विस्ट, नवाब मलिक ने बढ़ाई भाजपा नेता की मुश्किल

Last Updated: रविवार, 7 नवंबर 2021 (11:39 IST)
मुंबई। आर्यन खान केस में रविवार को उस समय बड़ा ट्विस्ट आ गया जब महाराष्ट्र के मंत्री ने दावा किया कि NCB अधिकारी समीर वानखेड़े, आर्यन खान का अपहरण करने की साजिश में शामिल थे।

उन्होंने क्रूज ड्रग्स मामले को फर्जी बताते हुए कहा कि इसका मास्टरमाइंड भाजपा युवा मोर्चा का अध्यक्ष मोहित कंबोज है। उसके समीर वानखेड़े के साथ अच्छे संबंध हैं और उनके द्वारा 6 अक्टूबर को वानखेड़े पर आरोप लगाने के बाद दोनों के बीच 7 अक्टूबर को एक कब्रिस्तान के बाहर मुलाकात हुई थी।
उन्होंने कहा कि वे जल्द ही वानखेड़े और मोहित कंबोज की मीटिंग के वीडियो जारी करेंगे।

मलिक ने कहा कि ये पूरा मामला अपहरण और फिरौती का है। उन्होंने कहा कि आर्यन खुद टिकट खरीदकर क्रूज पर नहीं गए थे। उन्हें वहां प्रतीक गाबा और आमिर फर्नीचरवाला लेकर आए थे। वहां से आर्यन का अपहरण किया गया और 25 करोड़ रुपए की फिरौती मांगी गई। एक सेल्फी ने पूरा खेल बिगाड़ दिया।
इस बीच समीर वानखेड़े के पिता ध्यानदेव काचरूजी वानखेड़े ने बॉम्बे हाईकोर्ट में महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया है।
समीर वानखेड़े के पिता ने नवाब मलिक पर चरित्र और प्रतिष्ठा को क्षति पहुंचाने का आरोप लगाया है। मलिक उनके परिवार को फ्रॉड कह रहे हैं और उनके धर्म पर सवाल उठाते हुए कह रहे हैं कि वे हिंदू नहीं हैं। इतना ही नहीं मलिक उनकी बेटी यास्मीन के करियर को भी बर्बाद कर रहे हैं, जो एक क्रिमनल लॉयर हैं।
गौरतलब है कि वानखेड़े द्वारा की गई छापेमारी के बाद आर्यन खान को क्रूज पोत से गिरफ्तार किया गया था और पोत से कथित तौर पर मादक पदार्थ बरामद किया गया था। मलिक ने अनेक बार कहा कि मादक पदार्थ जब्ती का यह मामला फर्जी है और उन्होंने वानखेड़े के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए हैं।



और भी पढ़ें :