1. समाचार
  2. मुख्य ख़बरें
  3. राष्ट्रीय
  4. mehbooba mufti joins rahul gandhi in bharat jodo yatra
Written By
पुनः संशोधित: शनिवार, 28 जनवरी 2023 (11:18 IST)

भारत जोड़ो यात्रा में राहुल को मिला महबूबा मुफ्ती का साथ, सुरक्षा चूक पर नहीं थमा बवाल

अवंतीपोरा। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के अवंतीपुरा से शनिवार सुबह अपनी ‘भारत जोड़ो यात्रा’ फिर शुरू की। यात्रा में राहुल को आज पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती का भी साथ मिला। एक दिन पहले पार्टी की ओर से सुरक्षा चूक का आरोप लगाने के बाद यात्रा को अनंतनाग जिले में अस्थाई रूप से रोक दिया गया था।
 
कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि केंद्र-शासित प्रदेश में पुलिस की ओर से किए गए सुरक्षा इंतजाम पूरी तरह से नाकाम रहे हैं। आरोपों पर जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने कहा था कि जितने लोगों की उम्मीद थी, उससे कहीं अधिक भीड़ जुटने की वजह से सुरक्षा संसाधनों पर दबाव बढ़ गया और ऐसा प्रतीत हुआ कि राहुल गांधी की यात्रा के लिए सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम नहीं किए गए हैं।
 
अवंतीपुरा में शनिवार को ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की प्रमुख महबूबा मुफ्ती और उनकी बेटी इल्तिजा मुफ्ती भी राहुल के साथ कदम से कदम मिलाकर चलती नजर आईं। महबूबा मुफ्ती की पार्टी के कार्यकर्ता भी बड़ी संख्या में यात्रा में शामिल हुए।
 
कश्मीर में राहुल के साथ उनकी बहन और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी यात्रा में हिस्सा ले सकती हैं। यात्रा के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा बलों ने यात्रा के आगाज़ स्थल तक जाने वाली सभी सड़कों को सील कर दिया था। केवल अधिकृत वाहनों और पत्रकारों को ही कार्यक्रम स्थल तक जाने की अनुमति दी गई थी। राहुल के इर्द-गिर्द तीन स्तरीय सुरक्षा घेरा मौजूद है।
 
दक्षिण कश्मीर जिले के चुरसू इलाके में उत्साही समर्थकों ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का स्वागत किया। बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता और समर्थक तिरंगा और पार्टी का झंडा लेकर राहुल की अगवानी के लिए उमड़ पड़े।
 
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने सफेद टी-शर्ट में सुबह 9.20 बजे एक बार फिर यात्रा शुरू की, लेकिन उन्होंने टी-शर्ट के ऊपर एक हाफ जैकेट पहन रखी थी।
 
राहुल को शुक्रवार को काजीगुंड क्षेत्र में अपनी यात्रा रोकनी पड़ी थी, क्योंकि सुरक्षा बल बनिहाल सुरंग के इस तरफ इकट्ठा हुई भारी भीड़ को प्रबंधित करने में विफल रहे थे। इसी सुरंग से यात्रा ने कश्मीर घाटी में प्रवेश किया था। इसके बाद राहुल बमुश्किल 500 मीटर भी नहीं चल सके थे।
 
राहुल के सुरक्षाकर्मियों ने उनसे यात्रा रोकने के लिए कहा, क्योंकि भारी भीड़ को संभालने के लिए पुलिसकर्मी मौजूद नहीं थे। इसके बाद, राहुल कार से अनंतनाग जिले के खानाबल पहुंचे, जहां उन्होंने रात्रि विश्राम किया। यात्रा को पम्पोर के गलंदर इलाके के बिरला स्कूल के पास कुछ देर रुकने के बाद दिन में श्रीनगर के बाहरी इलाके पंठा चौक पहुंचना है।
 
पंठा चौक पर रात्रि विश्राम के बाद ‘भारत जोड़ो यात्रा’ रविवार सुबह आगे बढ़ेगी और शहर के बोलेवार्ड रोड पर नेहरू पार्क के पास समाप्त होगी।
 
राहुल सोमवर को एमए रोड पर स्थित कांग्रेस मुख्यालय में तिरंगा फहराएंगे, जिसके बाद एसके स्टेडियम में एक जनसभा होगी। इस जनसभा में 23 विपक्षी दलों के नेताओं को आमंत्रित किया गया है। ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का आगाज़ पिछले साल सात सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से हुआ था।
 
ये भी पढ़ें
मुरैना में बड़ा विमान हादसा, वायुसेना के 2 लड़ाकू विमान सुखोई 20 और मिराज 2000 क्रैश