देश के 3 बड़े नेताओं की हालत गंभीर, शरद यादव, तरुण गोगोई ICU में, मनीष सिसोदिया को डेंगू

Last Updated: गुरुवार, 24 सितम्बर 2020 (23:04 IST)
नई दिल्ली/गुवाहाटी। कोरोनाकाल में देश के 3 बड़े नेता गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं। वरिष्ठ समाजवादी नेता (Sharad Yadav) को नई दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल (Sir Gangaram Hospital) में एडमिट (Admit) कराया गया है। वे आइसीयू (ICU) में भर्ती हैं। उन्हें बुधवार को अस्पताल में भर्ती करवाया गया, वहीं का इलाज करवा रहे दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) को डेंगू हो गया है। सिसोदिया के रक्त में प्लेटलेट्स की संख्या में भी गिरावट आई है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं असम के पूर्व मुख्यमंत्री (Tarun Gogoi) के शरीर में ऑक्सीजन का स्तर गिरने के चलते उन्हें आईसीयू में भर्ती किया गया है।
ALSO READ:
दिल्‍ली में Corona की दूसरी लहर, CM अरविंद केजरीवाल ने कही बड़ी बात
प्रधानमंत्री लगातार ले रहे हैं स्वास्थ्य की जानकारी : लोकतांत्रिक जनता दल (LJD) के नेता शरद यादव (Sharad Yadav) का स्वास्थ्य इस वक्त ठीक नहीं है। फिलहाल उनकी हालत अभी स्थिर है। यह जानकारी उनकी बेटी सुभाषिनी राज राव ने खुद दी।
सुभाषिनी ने एक पत्र लिख कर अपने पिता के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दी। उन्होंने यह भी बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi), गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन लगातार उनके पिता का हालचाल जानते रहे। शरद यादव की किडनी में खराबी आ गई है। परिवार के मुताबिक फिलहाल उन्हें अस्पताल के आइसीयू में रखा गया है।

सिसोदिया को हुआ डेंगू : दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के गुरुवार को डेंगू से पीड़ित होने की पुष्टि हुई। इससे एक दिन पहले उन्हें कोरोनावायरस के संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सूत्रों ने बताया कि सिसोदिया के रक्त में प्लेटलेट्स की संख्या में भी गिरावट आई है। सिसोदिया को बुधवार को लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके 14 सितंबर को कोविड-19 से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी।उपमुख्‍यमंत्री के दफ्तर से जारी की गई जानकारी के मुताबिक बिगड़ती तबीयत के बीच उन्‍हें लोकनायक अस्‍पताल से मैक्‍स अस्‍पताल, साकेत में शिफ्ट किया गया है।

गोगोई का ऑक्सीजन स्तर गिरा :
कोरोना से जूझ रहे वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के शरीर में ऑक्सीजन का स्तर गिरने के चलते गुरुवार को उन्हें आईसीयू में भर्ती किया गया है। 85 वर्षीय गोगोई 25 अगस्त को कोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए थे। इसके बाद उन्हें गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (जीएमसीएच) में भर्ती कराया गया था।

संक्रमणमुक्त होने के बाद भी गोगोई अस्पताल में भर्ती रहे। अस्पताल के अधीक्षक अभिजीत सरमा ने कहा कि गोगोई पहले से ही कई बीमारियों की चपेट में हैं और फेफड़ों में कुछ परेशानी होने के साथ ऑक्सीजन का स्तर कम होने के बाद उन्हें गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में भर्ती किया गया। उन्होंने कहा कि हालांकि, गोगोई की हालत स्थिर है और हम लगातार उनकी सेहत की निगरानी कर रहे हैं। इस समय वे ऑक्सीजन पर हैं।
असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि जीएमसीएच के अधिकारी शुक्रवार सुबह पूर्व मुख्यमंत्री गोगोई की स्थिति के बारे में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से नई दिल्ली में एम्स के डॉक्टरों से परामर्श करेंगे। उन्होंने कहा कि यदि आवश्यकता हुई तो हम उन्हें दिल्ली ले जाने को तैयार हैं। मैंने पहले ही उनके बेटे गौरव गोगोई से बात कर ली है। जीएमसीएच के अधीक्षक ने कहा कि गोगोई फिलहाल बात करने की स्थिति में हैं लेकिन काफी थके हुए हैं। हम उनकी पूरी देखभाल कर रहे हैं। (इनपुट भाषा)



और भी पढ़ें :